उत्तराखंड

उत्तराखंड लोकसभा चुनाव में सर्विस वोटर का कितना फीसदी मतदान, पांचों सीटों पर फायदा या नुकसान?

उत्तराखंड लोकसभा चुनाव में इस बार सर्विस वोटर का मतदान आंकड़ा 75 प्रतिशत के आस- पास रहने के आसार हैं। मतदान के ठीक एक महीने बाद तक प्रदेश में करीब 50 प्रतिशत सर्विस पोस्टल बैलेट की वापसी हो गई है।

इस बार कुल 93187 सर्विस वोटर को पोस्टल बैलेट भेजे गए हैं, जिसमें से अब तक करीब 46229 बैलेट पेपर मतदान के बाद वापस रिटर्निंग अधिकारी कार्यालय को प्राप्त हो गए हैं। उत्तराखंड में इस बार ईवीएम के जरिए कुल मतदान प्रतिशत 57.22 तक ही पहुंच पाया है।

लेकिन इस बार भी सर्विस वोटर का मतदान आंकड़ा 75 प्रतिशत तक छूने की पूरी उम्मीद है। मतदान के एक माह बाद तक सभी निटर्निंग अधिकारियों को करीब पचास प्रतिशत पोस्टल बैलेट वापस मिल चुके हैं। अभी मतगणना के दिन सुबह आठ बजे तक पोस्टल बैलेट की वापसी हो सकती है।

जिसमें अभी करीब दो सप्ताह का समय बचा है। इस तरह सर्विस वोटर का कुल मतदान प्रतिशत 75 प्रतिशत तक छूने का आसार हैं। गढ़वाल लोकसभा के लिए 2007 में हुए उपचुनाव के दौरान भी सर्विस वोटरों ने निर्णायक भूमिका निभाई थी।

लोकसभा क्षेत्र सर्विस वोटर प्राप्त बैलेट
टिहरी 12862 6694
गढ़वाल 34845 18730
अल्मोड़ा 29105 13888
नैनीताल 10629 4701
हरिद्वार 5746 2216
कुल 93187 46229

Leave a Response