उत्तराखंड

उत्तराखंड में मैदानी इलाकों के साथ-साथ पहाड़ में भी भीषण गर्मी

उत्तराखंड में मैदानी इलाकों के साथ-साथ पहाड़ में भी भीषण गर्मी हो रही है। मौसम विभाग ने शनिवार को भी देहरादून में तापमान 43.2 डिग्री रहने का पूर्वानुमान जारी किया है, जो सामान्य से सात डिग्री सेल्सियस ज्यादा होगा। साथ ही, सभी 13 जिलों में कई जगह दिन के समय लू चलने की चेतावनी जारी की गई है।हालांकि, पर्वतीय जिलों में कुछ स्थानों पर शाम के समय बारिश से राहत मिलने की उम्मीद है। शुक्रवार को देहरादून समेत उत्तराखंड के अधिकांश हिस्सों में गर्मी ने लोगों के पसीने छुड़ाए। मसूरी, नई टिहरी समेत कई शहरों में दिन का तापमान सामान्य से अधिक रहा।

इसके अलावा श्रीनगर, कोटद्वार, टनकपुर समेत कई पर्वतीय शहरों में भी दिन के वक्त लोगों को लू का सामना करना पड़ा। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि राज्य में हल्की बारिश का पैटर्न बन रहा है, हालांकि यह पर्वतीय क्षेत्रों में ज्यादा प्रभावी नजर आ रहा है। इससे दिन की गर्मी के बाद शाम को राहतभरी हल्की बारिश हो सकती है।

शाम के समय चल सकती हैं तेज हवाएं
मौसम विभाग ने अगले दो दिन अधिकांश पर्वतीय जिलों में शाम के वक्त तेज हवाएं चलने और कुछ जगह आकाशीय बिजली चमकने का येलो अलर्ट जारी किया है। दो जून को भी अधिकांश हिस्सों में इसी तरह का मौसम बने रहने के आसार हैं। मौसम निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक, अभी मौसम में बहुत उल्लेखनीय बदलाव नजर नहीं आ रहा है।

भीषण गर्मी में लू चलने से लोग हलकान
उत्तराखंड के मैदानी शहरों में तापमान 44 के पार पहुंच गया है। रुद्रपुर, रुड़की, हरिद्वार, विकासनगर आदि शहरों में बढ़ते तापमान ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। हरिद्वार में शुक्रवार को अधिकतम तापमान 43.6 डिग्री दर्ज हुआ। जो साल का दूसरा सबसे अधिक गर्म दिन रहा।

वहीं न्यूनतम तापमान 25.10 डिग्री दर्ज हुआ। तपती धूप और गर्म हवाओं में दिन के समय लोगों को आवाजाही करने में परेशानी उठानी पड़ी। धर्मनगरी में धूप की तपिश लगातार बढ़ रही है। इस कारण सनबर्न, हीट स्ट्रोक, लाल दाने आदि के मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है।धर्मनगरी में गर्मी से लोग बेहाल हैं। उमस भरी गर्मी में लोगों के पसीने निकल रहे हैं। दिन में चल रही गर्म हवाओं से त्वचा को नुकसान पहुंच रहा है। दिन में लोग आवागमन करने से बच रहे हैं। दोपहर के समय सड़के सुनसान नजर आ रही है।सड़कों पर लोगों को भीषण गर्मी का एहसास हो रहा है। दिन में गर्मी से बचाव के लिए लोग पेयजल पदार्थों का सेवन कर रहे हैं। धर्मनगरी में सोमवार को अधिकतम तापमान 43.6 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 25.10 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। दिन के विपरीत रात को भी गर्मी बढ़ गई है।

गर्मी में रात के समय लोग पंखे, कूलर, एसी आदि उपकरणों का उपयोग कर रहे हैं। दिन के समय भी बाजारों में लोग गन्ना, बेल, मौसमी, गाजर, संतरा आदि जूस और अन्य पेय पदार्थों का सेवन कर रहे हैं। साथ ही लोग छाता लेकर, मुंह पर कपड़ा ढक कर और सूती गर्मी के कपड़े, ग्लव्स आदि पहन कर आवागमन कर रहे हैं। दिन के समय चटक धूप लोगों को परेशान कर रही है।

यह करें बचाव: हरिद्वार। वरिष्ठ त्वचा विशेषज्ञ डॉ. के स्वरूप ने लोगों को दिन में सुबह 11 बजे से शाम पांच बजे तक तेज धूप में आवाजाही से बचने की सलाह दी है। साथ ही फुल बाजू की कमीज, सूती कपड़ों और दस्तानों का उपयोग करने और 15 से 30 फीसदी सन प्रोटेक्शन फैक्टर वाली सन प्रोटेक्टेड क्रीम लगाने की सलाह दी है। साथ ही त्वचा संबंधी समस्या होने पर त्वचा विशेषज्ञ से परामर्श करने और घर पर इलाज करने से बचने की भी सलाह दी है

Leave a Response