उत्तराखंड

Weekend पर फ‍िर उत्‍तराखंड में बढ़ी पर्यटकों की चहल-पहल, मसूरी और नैनीताल पैक होने की उम्मीद

 मैदानी क्षेत्रों में गर्मी और उमस लोगों के पसीने छुड़ा रही है। इससे निजात पाने के लिए ज्यादातर लोग पहाड़ों का रुख कर रहे हैं। इस सप्ताहंत मसूरी और नैनीताल में पर्यटकों का खूब जमघट लगने वाला है। गुरुवार शाम तक मसूरी के होटल व गेस्ट हाउस में करीब 55 प्रतिशत आक्यूपेंसी पहुंच गई है। होटल संचालक उम्मीद जता रहे हैं कि शुक्रवार, शनिवार और रविवार को होटलों की बुकिंग फुल हो जाएगी।

पर्यटक सीजन में हर साल देश के विभिन्न क्षेत्रों से पर्यटक मसूरी पहुंचते हैं। पर्यटक यहां माल रोड, चार दुकान, कैंपटी फाल, गनहिल के अलावा आसपास के पर्यटक स्थलों बुरांसखंडा, काणाताल, धनोल्टी का भी रुख करते हैं। यहां के मौसम की सबसे बड़ी खूबी यह है कि यहां गर्मियों में भी सर्दियों का एहसास होता है। गुरुवार को बाजार और पर्यटन स्थलों पर पर्यटकों की खूब चहल-पहल रही।

सरोवर नगरी नैनीताल में सैलानियों की आमद बढ़नी शुरू हो गई है। इसके चलते नगर में चहल-पहल बनी हुई है। अब 15 मई के बाद ग्रीष्मकालीन सीजन के परवान चढ़ने की उम्मीद है।मैदानी शहरों में ज्यों-ज्यों गर्मी बढ़ रही है, त्यों-त्यों सैलानी हिल स्टेशन की ओर रुख करते जा रहे हैं। इसी क्रम में सरोवर नगरी नैनीताल में भी पर्यटकों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है।

माल रोड पर रात तक रौनक बनी रही। मसूरी होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय अग्रवाल के अनुसार, गुरुवार शाम तक मसूरी में होटलों में पर्यटक आक्यूपेंसी 50 से 55 प्रतिशत हो चुकी है। ऐसे में सप्ताहंत पर मसूरी पर्यटकों से पूरी तरह से पैक होने की उम्मीद है। इन दिनों मसूरी में लायंस क्लब के तीन मंडलों की कांफ्रेंस भी हो रही है, जिसमे लगभग एक हजार प्रतिनिधि आए हैं।

इसी कारण शुक्रवार को नगर के पर्यटन स्थलों में खूब चहल-पहल नजर आई। यहां स्नोव्यू, राजभवन, हिमालय दर्शन व केव गार्डन में पर्यटकों की अच्छी खासी भीड़ रही। झील में नौकायन का आनंद उठाने के लिए भी सैलानी बेताब नजर आए।हनुमानगढ़ी में भी काफी नैसर्गिक सुंदरता का लुत्फ उठाते मिले। इधर नैनीताल होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन अध्यक्ष दिग्विजय बिष्ट के अनुसार 15 मई से ग्रीष्कालीन सीजन में और इजाफा होने की उम्मीद है।

Leave a Response