उत्तराखंड

BJP प्रत्याशी त्रिवेंद्र सिंह रावत,अजय भट्ट-माला लोकसभा चुनाव में खुद को नहीं दे पाएंगे वोट, आखिर क्या है वजह ?

लोकसभा चुनाव में खड़े सभी प्रत्याशी जहां एक – एक वोट प्राप्त करने के लिए एड़ी चोटी की जोर लगा रहे हैं, लेकिन इसमें कुछ ऐसे भी जो खुद को ही वोट नहीं दे पाएंगे। उनका अपना वोट दूसरे संसदीय क्षेत्र में दर्ज होने के कारण यह नौबत आई है। इसमें दो मौजूदा सांसद और एक पूर्व सीएम भी शामिल हैं।

टिहरी संसदीय क्षेत्र पर भाजपा ने एक बार फिर माला राज्य लक्ष्मी शाह को प्रत्याशी बनाया है। लेकिन उनका वोट नरेंद्रनगर में दर्ज है। जो टिहरी जिले का हिस्सा होने के बावजूद गढ़वाल संसदीय क्षेत्र में आता है। माला टिहरी से मौजूदा सांसद भी हैं।

इसी तरह पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं, त्रिवेंद्र को भाजपा ने हरिद्वार से प्रत्याशी बनाया है। त्रिवेंद्र डिफेंस कॉलोनी देहरादून में रहते हैं, जो रायपुर विधानसभा के तहत टिहरी संसदीय सीट का हिस्सा है। नैनीताल -ऊधमसिंह नगर सीट पर कुल 10 प्रत्याशी मैदान में हैं।

इसमें अजय भट्ट का वोट रानीखेत विधानसभा में बूथ संख्या 135 पर है जो कि अल्मोड़ा – पिथौरागढ़ संसदीय सीट में पड़ता है। अजय भट्ट नैनीताल- यूएसनगर सीट पर मौजूदा सांसद भी हैं। दूसरी तरफ गढ़वाल और अल्मोड़ा -पिथौरागढ़ लोकसभा सीट पर खड़े सभी प्रत्याशियों का वोट उनके निर्वाचन क्षेत्र में ही दर्ज है। वो खुद अपने लिए वोट कर पाएंगे।

Leave a Response