उत्तराखंड

चारधाम यात्रा के पहले दिन ही 2 लाख से अधिक पंजीकरण, जानिए कैसे कराना होगा रजिस्ट्रेशन

चारधाम यात्रा के लिए आनलाइन पंजीकरण शुरू हो गए हैं। पहले ही दिन चार धाम के लिए दो लाख से अधिक पंजीकरण हो गए हैं। सबसे अधिक 69 हजार पंजीकरण केदारनाथ धाम के लिए हुए हैं। इसके अलावा इस बार चारधाम के साथ ही हेमकुंड साहिब के लिए भी पंजीकरण शुरू कर दिए गए हैं। केदारनाथ के लिए 18 अप्रैल से हेली सेवा की बुकिंग भी शुरू कर दी जाएगी।

इस वर्ष 10 मई को गंगोत्री-यमुनोत्री और केदारनाथ धाम के कपाट खुलने के साथ चार धाम यात्रा प्रारंभ हो जाएगी। इसके बाद 12 मई को बदरीनाथ धाम और 25 मई को हेमकुंड साहिब के भी कपाट श्रद्धालुओं के लिए खुल जाएंगे। सभी धामों के कपाट खुलने की तिथि तय होने के बाद पर्यटन विभाग ने चार धाम यात्रा के लिए सोमवार से आनलाइन पंजीकरण शुरू कर दिए हैं। चार धाम यात्रा प्रशासन संगठन की ओर से जारी पंजीकरण बुलेटिन के अनुसार, शाम चार बजे तक कुल 2,01,851 पंजीकरण हो गए थे।

सबसे अधिक 69,543 पंजीकरण केदारनाथ धाम के लिए किए गए हैं। इसके बाद बदरीनाथ धाम के लिए 58,685, यमुनोत्री के लिए 35,356, गंगोत्री के लिए 36,111 और हेमकुंड साहिब के लिए 2,156 लोग ने पंजीकरण कराया है। इस दौरान आदि कैलास और ओम पर्वत के लिए भी 450 भक्तों ने बुकिंग कराई है।

श्रद्धालुओं के लिए आनलाइन पूजा की बुकिंग शुरू : श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति (बीकेटीसी) ने भी यात्रा के लिए आनलाइन पूजा बुकिंग शुरू कर दी है। 30 जून तक बीकेटीसी की वेबसाइट पर आनलाइन पूजा की बुकिंग करा सकते हैं।

Leave a Response