देश/प्रदेश

देहरादून में युवा कांग्रेस ने फूंका गृह मंत्री अमित शाह का पुतला

देहरादून, गांधी परिवार को मिली एसपीजी सुरक्षा हटाए जाने पर युवा कांग्रेस ने कड़ा विरोध जताया। कार्यकर्ताओं ने इसके विरोध में एस्लेहॉल चौक पर गृह मंत्री अमित शाह का पुतला फूंका।

इस दौरान युकां के संयोजक सोनू हसन व उपाध्यक्ष रोबिन त्यागी ने कहा कि केंद्र सरकार भेदभाव से काम कर रही है गांधी परिवार से दो-दो पूर्व प्रधानमंत्री आतंकवादी हमले के शिकार हुए हैं। उसके बाद भी ऐसे परिवार की एसपीजी सुरक्षा हटाना न्याय संगत नहीं है।

उन्होंने चेतावनी दी कि अगर जल्द गांधी परिवार को एसपीजी सुरक्षा बहाल नहीं की गई तो युवा कांग्रेस सड़क पर उतर कर आंदोलन करने को बाध्य होगी।

पुतला फूंकने वालों में युकां के कार्यकारी अध्यक्ष सुमित्तर भुल्लर, प्रदेश सचिव प्रदीप बिष्ट, प्रदेश संयोजक मोहन थापली, तुषार पाल, अरविंद शर्मा, सौरभ गुलेरिया, प्रदेश प्रवक्ता विकास नेगी, एडवोकेट रेशमा आदि शामिल थे।

राज्य आंदोलनकारी शीतकालीन सत्र में विधानसभा का घेराव करेंगे। रविवार को आयोजित उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी मंच की बैठक में यह निर्णय लिया गया। इसके अलावा आयुष कॉलेज व एचएनबी गढ़वाल केंद्रीय विवि की फीस वृद्धि के मुद्दे पर छात्रों के साथ समन्वय समिति बनाने पर भी सहमति बनी।

कचहरी परिसर स्थित शहीद स्मारक पर आयोजित बैठक में निजी कॉलेजों के खिलाफ आंदोलित आयुष छात्रों पर खास फोकस रहा। बैठक में एनएसयूआइ से जुड़े कई छात्र नेता भी मौजूद रहे।

सभी ने एक स्वर में कहा कि आयुष छात्रों की फीस पर सरकार या फिर राज्यपाल निर्णय लें। शुल्क ढांचा न्यायालय के निर्देशानुसार ही तय किया जाए। साथ ही एचएनबी गढ़वाल केंद्रीय विवि से संबद्ध महाविद्यालय के छात्रों की बढ़ी हुई फीस जल्द वापस ली जाए।

वरिष्ठ राज्य आंदोलनकारी रविंद्र जुगरान ने कहा कि राज्य आंदोलनकारी छात्रों के साथ संयुक्त रूप से संगठित होकर समन्वय समिति बनाएंगे। यदि सरकार इस पर शीघ्र निर्णय नहीं लेती है तो राजभवन तक शांति मार्च निकाला जाएगा।

वहीं मंच के अध्यक्ष जगमोहन सिंह नेगी ने कहा कि राज्य से जुड़े मुद्दों और राज्य आंदोलनकारियों की मांगों को लेकर आगामी शीतकालीन सत्र में विधान सभा का घेराव किया जाएगा। जिला अध्यक्ष प्रदीप कुकरेती ने कहा कि सरकार जनता से किए गए वादों को पूरा करने की बजाय ठीक उलट कार्य कर रही है।

बैठक में ओमी उनियाल, महासचिव रामलाल खंडूरी, संयुक्त सचिव सतेंद्र नोगाई, सतेंद्र भंडारी, विनोद असवाल, एनएसयूआइ के प्रदेश अध्यक्ष मोहन भंडारी, उदित थपलियाल, अंकित बिष्ट, कर्मचारी परिषद के अध्यक्ष यशवंत रावत, बिशंभर दत्त बौंठियाल, सुरेश नेगी, सुरेश कुमार, मोहन खत्री, देव नौटियाल, विजय बलूनी आदि मौजूद रहे।

विशेष