उत्तराखंड

पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट बद्रीनाथ धाम मास्टर प्लान पर काम शुरू

चमोली:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) के ड्रीम प्रोजेक्ट बद्रीनाथ धाम मास्टर प्लान (Badrinath Dham Master Plan) का कार्य शुरू हो गया है. बद्रीनाथ धाम को भी काशी विश्वनाथ  कॉरिडोर की तर्ज पर स्मार्ट स्प्रिचुअल हिल टाउन के रूप में विकसित किया जाएगा. इस परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण का काम पूरा हो चुका है और अब इलाके में बर्फ पिघलने के बाद परियोजना पर भी काम शुरू कर दिया गया है.

बद्रीनाथ धाम के मास्टर प्लान का पूरा नक्शा गुजरात की कंपनी आईएनआई ने डिजाइन किया है. इसी नक्शे के आधार पर पहले फेज का कार्य आरंभ हो चुका है.

बद्रीनाथ धाम मास्टर प्लान के पहले फेज़ में होंगे ये सारे काम

1. वन वे लूप रोड का पहाड़ी शैली के पत्थर से होगा निर्माण. इसमें लगभग 700 मीटर सड़क बनाई जाएगी.

2. अराइवल प्लाजा का निर्माण किया जाएगा, जहां यात्रा टिकट की बुकिंग, होटलों की जानकारी जैसी सुविधाएं तीर्थ यात्रियों को दी जाएगी

3. बद्रीनाथ में स्थित शेष नेत्र झील और बद्रीश झील का सौंदर्यीकरण होगा. ये दोनों झीलें लगभग 300 मीटर तक फैली हैं.

4 . बद्रीनाथ धाम में स्थित अस्पताल का विस्तारीकरण होगा, जिससे कि यहां आने वाले तीर्थयात्रियों को अच्छा उपचार सकेगा.

बद्रीनाथ धाम प्रोजेक्ट के इस पहले फेज में लगभग 22 सरकारी भवनों को ध्वस्त किया गया है. वहीं इसके लिए हुए भूमि अधिग्रहण के बाद प्रशासन ने लगभग 33 करोड़ की मुआवजा राशि भी भूस्वामियों को दे दी है.

बदरीनाथ धाम को विकसित करने के लिए अब तक 250 करोड़ का इंतजाम हो चुका है, जिसमें 200 करोड़ रुपये सीएसआर के तहत विभिन्न सार्वजनिक उपक्रम और कंपनियों ने दी है, जबकि 25 करोड़ नमामि गंगे तथा 25 करोड़ विभागीय योजना से मिला है.

बद्रीनाथ धाम के इस मास्टर प्लान के तहत आने वाले 100 सालों की जरूरत को ध्यान में रखते हुए इस धाम को विकसित किया जाएगा. इसी आधार पर बुनियादी ढांचों के विकास के साथ-साथ यात्रियों की सुविधाओं के लिए आवश्यक इंतजाम किए जाएंगे.

Leave a Response