Latest Newsराष्ट्रीय

महि‍ला ने लगाया वॉट्सऐप स्टेटस, हुई ग‍िरफ्तार, कई धाराओं में केस दर्ज

कर्नाटक (Karnataka) के बागलकोट जिले में एक 25 वर्षीय महिला को सोमवार को कथित तौर पर एक व्हाट्सएप स्टेटस (Whatsapp Status) पोस्ट करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. महि‍ला ने पाकिस्तान (Pakistan) को उसके गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी थीं. महिला कुठमा शेख मुधोल की रहने वाली है और पड़ोस के मदरसे की छात्रा है. इस बात की सूचना ज‍िले की पुल‍िस ने दी. पुलिस अधीक्षक के अनुसार, मह‍िला ने 23 मार्च को पाकिस्तान के गणतंत्र दिवस पर अपने व्हाट्सएप स्टेटस पर उर्दू में लिखा, ‘अल्लाह हर मुल्क में इत्तिहाद… अमन…सुकून…अता फरमा मौला.’

इसका मतलब है कि अल्लाह हर देश को शांति एकता और सद्भाव प्रदान करे. बताया गया कि अरुण कुमार भजंत्री नामक एक सामाजिक कार्यकर्ता ने मुधोल पुलिस स्टेशन में इसकी शिकायत दर्ज की थी. 24 मार्च को शेख को गिरफ्तार कर लिया गया और हिरासत में ले लिया गया और अगले दिन ही जमानत दे दी गई. अपनी पुलिस रिपोर्ट में भजंत्री ने दावा किया कि महिला का उद्देश्य जातीय तनाव को भड़काना था. उन्होंने पुलिस से मांग की थी कि महिला पर राजद्रोह का आरोप लगाया जाए. फिलहाल पुलिस ने अपने बयान में बताया कि महिला को शांति और व्यवस्था बनाए रखने के लिए हिरासत में लिया गया था.

पुल‍िस ने कई मामलों में दर्ज किया केस

पुलिस ने मह‍िला पर भारतीय दंड संहिता की धारा 153 (ए) (धर्म, नस्ल, या अन्य विशेषताओं के आधार पर समूहों के बीच घृणा को उकसाना) और 505 (2) (धर्म, नस्ल, या अन्य कारकों के आधार पर समूहों के बीच घृणा भड़काना) को तोड़ने का आरोप लगाया. इसमें ऐसे बयान देना शामिल होता है, जो समूहों के बीच शत्रुता को बढ़ावा देते हों.

एक वकील ने पुलिस पर लगाया जल्‍दबाजी का आराेप

मामले में एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘उनकी स्थिति की व्याख्या पाकिस्तान के गणतंत्र दिवस के जश्न के रूप में की जा सकती है. अगर हम जल्दी से आगे नहीं बढ़े होते, तो इसके परिणामस्वरूप दंगे, विरोध और प्रति-विरोध हो सकते थे. इस मामले पर एक वकील और RTI कार्यकर्ता भीमनागौड़ा पारागोंडा ने कहा कि पुलिस को गिरफ्तारी करने से पहले विवेक और निर्णय का उपयोग करना चाहिए. महिला पर लगाए गए आरोप अदालत में नहीं टिकेंगे. ऐसे आरोप निर्दोष लोगों को परेशान करने जैसे लगते हैं.

Leave a Response