देश/प्रदेश

दहेज के लिए शराब के नशे में पत्नी को बेरहमी से पीटा

काशीपुर : दहेज की मांग पूरी न होने पर पति ने शराब के नशे में पत्नी को कमरे में बंद कर पीटा और मोमबत्ती से उसका हाथ जला दिया।

इतना ही नहीं आरोपितों ने बेटी होने पर विवाहिता को धक्का देकर घर से निकाल दिया। पुलिस ने इस मामले समेत दो मामलों में आठ लोगों के खिलाफ दहेज उत्पीडऩ का मामला दर्ज किया है।

शिव गौरी विहार गौतमनगर निवासी मीनाक्षी देवी पुत्री प्रेमपाल सिंह ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि उसका विवाह एक मार्च 2017 को ग्राम लालपुर चैहान थाना डिलारी, मुरादाबाद निवासी राजीव कुमार पुत्र रामप्रसाद के साथ हुआ था।

जिसमें उपहार स्वरूप भरपूर सामान दिये जाने पर भी ससुराल वाले खुश नहीं हुए और दहेज में उससे दो लाख रुपये और एक कार की मांग कर उसे परेशान करने लगे।

आरोप लगाया कि टीचर पति शराब पीकर कमरे में बंद कर मारपीट करता था और मोमबत्ती से उसका हाथ जला देता था।

तमाम प्रताडऩाओं के बीच एक पुत्री को जन्म देने के बाद पति व ससुराल वालों का व्यवहार और खराब हो गया। तहरीर में कहा गया है कि बीते वर्ष 27 दिसम्बर की सुबह पति राजीव, जेठ महावीर, ननद कमलेश ने दो लाख रुपये और कार की मांग करते हुए मारपीट कर उसे बच्ची समेत घर से निकाल दिया। तहरीर के आधार पर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ दहेज अधिनियम के तहत केस दर्ज किया है।

एक अन्य मामले में कुंडेश्वरी निवासी रश्मि नेगी पुत्री विक्रम सिंह ने पुलिस में तहरीर देकर बताया कि सितम्बर 2017 में उसका विवाह मूलत: हरिद्वार तथा हाल में गुवाहाटी निवासी संदीप सिंह नेगी पुत्र यशवंत सिंह के साथ हुआ था। पति, सास, ससुर आए दिन दहेज का ताना देकर प्रताडि़त करते हुए उससे मारपीट करने लगे।

उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया गया। आरोपित उसके पिता से दहेज में 12 लाख रुपये देने की मांग कर रहे थे। पुलिस ने पीडि़ता की तहरीर पति संदीप, ससुर यशवंत, सास पीतांबरी देवी, जेठ रविन्द्र नेगी, जेठानी विनीता नेगी व ननद रजनी नेगी पर दहेज एक्ट के तहत केस दर्ज किया है।

विशेष