देश/प्रदेश

खटीमा के सिसैया बंधा गांव में शारदा सागर डाम की भूमि से कब्जा हटाने को लेकर मिले नोटिस के विरोध मे ग्रामीण

खटीमा : शारदा सागर खंड पीलीभीत के शारदा सागर बांध की भूमि को 12 मार्च तक खाली करने के बाद ग्रामीणों को मिले नोटिस से ग्रामीणों में खासा आक्रोश है। बुधवार को ग्रामीणों ने सिसैया गांव में बैठक कर विरोध जताया।

जिलेदार द्वितीय उपखंड खटीमा शारदा सागर खंड पीलीभीत की ओर ग्रामीणों को 22 किमी शारदा सागर बांध की भूमि पर अवैध कब्जा करने को लेकर ग्रामीणों को नोटिस जारी कर 12 मार्च तक भूमि को खाली करने के आदेश दिये तथा कब्जा न हटाने पर बलपूर्वक कब्जा हटाने को नोटिस जारी किया गया। जिसका ग्रामीणों ने विरोध शुरू कर दिया है। ग्रामीणों ने कहा कि वह पिछले कई वर्षो से भूमि पर निवास करते हुए खेतीबाड़ी करते आ रहे हैं।

ग्रामीणों ने कहा कि वह किसी स्थिति में काबिज भूमि से नहीं हटेंगे और इसका पुरजोर विरोध करेंगे। बैठक में पहुंचे कांग्रेस प्रदेश महामंत्री भुवन कापड़ी ने कहा कि सिसैया बंधा में बैठे परिवारों को किसी कीमत में उजड़ने नहीं दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ग्रामीणों के साथ खड़ी है और ग्रामीणों के साथ भूमि खाली कराने का कंधे से कंधा मिलाकर विरोध करेगी।
इस दौरान मदन यादव, राम जतन साहनी, विमल, बबलू, रामशीष, राम प्रीत, प्रदीप, शीला देवी, ब्रज विहारी यादव, लालधरी, रामानंद, हरी नारायन, मुन्ना गौतम, उपेंद्र, पार्वती, सरस्वती, सोनी, गीता, राजवंशी, हरी चंद्रा, विशन कुमार, रामाशंकर, भरत, विकास, रीतेंद्र, पिंटू, हरी लाल, जितेंद्र, रामश्रवेश आदि थे।

विशेष