देश/प्रदेश

अध्यापक नहीं होने से शक्तिफार्म जूनियर हाईस्कूल तिलियापुर के ग्रामीणों ने की तालाबंदी

शक्तिफार्म। एक माह बीतने के बावजूद जूनियर हाईस्कूल तिलियापुर में शिक्षक नियुक्त न होने से ग्रामीणों में आक्रोश है। बृहस्पतिवार को ग्रामीणों ने शिक्षा विभाग पर बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ करने का आरोप लगाते हुए स्कूल में ताला जड़ दिया और प्रदर्शन किया। चेतावनी दी कि सोमवार तक शिक्षक की नियुक्ति न होने पर उग्र आंदोलन किया जाएगा।

जूनियर हाईस्कूल तिलियापुर में एक प्रधानाध्यापक समेत चार सहायक अध्यापकों के पद सृजित हैं। 31 जनवरी 2020 तक विद्यालय में मात्र एक शिक्षक नियुक्त था। 31 जनवरी को शिक्षक के सेवानिवृत्त होने पर स्कूल शिक्षकविहीन हो गया। विभाग ने विद्यालय का चार्ज उसी कैंपस में स्थित प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक को सौंप वहां दूसरे स्कूल की एक शिक्षिका को पठन-पाठन के लिए अस्थायी रूप से चार्ज दे दिया। स्कूल में अध्ययनरत 67 बच्चों के शिक्षण की जिम्मेदारी इसी एकमात्र शिक्षिका पर है।

अपने बच्चों का भविष्य चौपट होता देख ग्रामीणों में शिक्षा विभाग के खिलाफ भारी आक्रोश है। उन्होंने प्रधान पति पूरन डसीला की अगुवाई में स्कूल में तालाबंदी कर विभाग के खिलाफ नारेबाजी की। वहां अजय गांधी, सुमिंदर यादव, रामानंद सागर, सुशील कुमार, शिवा कुमार, दीपक कुमार, संजय चौहान, दीपक यादव, कुंदन कुमार, प्रेमचंद्र, सूरज सिंह, गुलाब साहनी, हरि भजन चौहान, संगीता देवी, लौंगि देवी, रमणी देवी, इसरावती, सुगरी देवी, चंद्रावती देवी आदि थे।
जल्द होगी शिक्षकों की नियुक्ति: बीईओ

मार्च के प्रथम सप्ताह तक शिक्षकों की कमी दूर कर दी जाएगी। फिलहाल विद्यालय में पठन-पाठन सुचार रहे, इसके लिए अस्थायी व्यवस्था पर एक शिक्षिका नियुक्त है। इंद्रजीत सिंह चौहान, बीईओ सितारगंज।

विशेष