सुनो सरकार

विक्रम-ऑटो, बस और ट्रकों का चक्काजाम, यात्रियों की बढ़ी परेशानी

ऑटोमेटेड फिटनेस सेंटर की अनिवार्यता और देहरादून, हरिद्वार जिले में दस साल से पुराने विक्रम, ऑटो बंद करने के विरोध में आज मंगलवार को प्रदेशभर में चक्काजाम है।इससे यात्रियों की परेशानी बढ़ गई है। उत्तराखंड के अलग-अलग जिलों में पहुंच रहे लोगों को वाहन नहीं मिल रहे हैं। सड़कों पर इक्के दुक्के वाहन ही दिख रहे हैं।  वहीं, प्रदेशभर के वाहन स्वामी देहरादून में विधानसभा कूच करेंगे।

बता दें कि परिवहन विभाग ने देहरादून के डोईवाला और ऊधमसिंह नगर के रुद्रपुर में निजी सहभागिता से ऑटोमेटेड फिटनेस सेंटर शुरू किए हैं। वाहनों की फिटनेस अनिवार्य करने के विरोध में विक्रम, ऑटो, बस, ट्रक, सिटी बस संचालक विरोध कर रहे हैं।

वहीं, आरटीए देहरादून के दस साल से पुराने डीजल ऑटो, विक्रमों का संचालन बंद करने के फैसले का भी भारी विरोध हो रहा है। उत्तराखंड विक्रम, ऑटो रिक्शा परिवहन महासंघ, सिटी बस सेवा महासंघ सहित गढ़वाल मंडल की करीब 15 यूनियनों के साथ ही कुमाऊं मंडल की यूनियन भी इसमें शामिल हैं।

वहीं, परिवहन आयुक्त अरविंद सिंह ह्यांकी ने सभी डीएम, एसएसपी, आरटीओ, एआरटीओ को पत्र भेजकर चक्काजाम होने पर वैकल्पिक व्यवस्था करने को कहा है। उधर, विक्रम जनकल्याण सेवा समिति ने कहा है कि वह चक्काजाम में नहीं केवल विधानसभा कूच में शामिल होंगे।

 

Leave a Response