देश/प्रदेश

उत्तरकाशी को मिली हाईटेक सुविधाओं वाली दो एम्बुलेंस

उत्तरकाशी: प्रदेश सरकार स्वास्थ सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए लगातार कोशिश कर रही है. सोमवार को उत्तरकाशी में जिला प्रशासन की तरफ से दूरस्थ इलाकों के लिए हर्षिल घाटी बॉर्डर एरिया डेवलपमेन्ट कार्यक्रम के तहत दो नए एम्बुलेंस की सौगात दी.

डीएम डॉ. आशीष चौहान सहित यमुनोत्री विधायक केदार रावत और गंगोत्री विधायक गोपाल रावत ने सीमान्त हर्षिल और मोरी में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने के लिए अलग-अलग माध्यमों से आई दो एम्बुलेंस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.

बता दें कि दोनों एम्बुलेंस अलग- अलग क्षेत्रों में अपनी सेवाएं देगी. इसमें एक एम्बुलेंस सीमांत हर्षित घाटी के गांवों और एक एम्बुलेंस दूरस्थ ब्लॉक मोरी के गांवों में अपनी सेवाएं देगी.

वही, इन दोनों एम्बुलेंस में लाइट सिक्योरिटी सिस्टम लगा हुआ है. जिससे कि किसी के गंभीर बीमारी होने या किसी आपातकालीन स्थिति में किसी की जिंदगी बचाने के काम आ सके. वहीं, स्वास्थ्य सेवाओं के लिए भी यह एम्बुलेंस वरदान साबित होगी.

गौरतलब है कि डीएम डॉ आशीष चौहान सहित यमुनोत्री विधायक केदार रावत और गंगोत्री विधायक गोपाल रावत ने सीमान्त हर्षिल और मोरी में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने के लिए अलग-अलग माध्यमों से आई दो एम्बुलेंस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.

वहीं, मोरी के लिए सतलुज जल विद्युत परियोजना की ओर से एक-एक एम्बुलेंस दी गई है. दूरस्थ क्षेत्र होने के वजह से हर्षित घाटी और मोरी में आपातकालीन स्थिति में स्वास्थ्य सेवाएं नही मिल पाती थी.

ऐसे में ये एम्बुलेंस स्वास्थ्य सेवाओं के लिए वरदान साबित होंगी. दरअसल, एम्बुलेंस में लाइफ सिक्योरिटी सिस्टमसे लैस होने से ये पर्यटन के लिहाज से भी महत्वपूर्ण है.

विशेष