देश/प्रदेश

उत्तराखंड में जमातियों को पकड़ने वाले पुलिसकर्मियों को मिलेगा इनाम, डीजी लॉ एंड ऑर्डर ने की घोषणा

देहरादून: देश इस वक्त कोरोना महामारी की चपेट में हैं. कोरोना संक्रमण से बचने और इसकी चेन तोड़ने के लिए दो अहम हथियार बताए जा रहे हैं. पहला लॉकडाउन और दूसरा सोशल डिस्टेंसिंग. पीएम मोदी की अपील के बावजूद भी कई लोग अभी भी ना तो लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिंग को फॉलो कर रहे हैं. जिसकी वजह से देश के कई हिस्सों में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है. वहीं देश में अबतक ढाई हजार से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं.

वहीं उत्तराखंड पुलिस लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवा रही है. इसी क्रम में उत्तरप्रदेश के रामपुर से चोरी छिपे रुद्रपुर आ रहे जमातियों को पकड़ने वाली पुलिस टीम को डीजी लॉ एंड ऑर्डर अशोक कुमार ने 20 हजार का इनाम देने की घोषणा की है. वहीं खबर यह भी आ रही है कि इन जमातियों को पकड़ने वाले 10 पुलिसकर्मियों को भी क्वॉरंटाइन किया गया है.

पिछले दो तीन दिनों में दिल्ली निजामुद्दीन मरकज में जमातियों से फैले कोरोना संक्रमण की चेन पूरे देश में देखी जा रही है. वहीं कई जमातियों को मस्जिद से निकाल कर आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट किया गया है, तो वहीं लगभग 9 हजार लोगों को क्वॉरंटाइन किया जा चुका है. लेकिन अभी कई लोग संक्रमित होने के बावजूद भी घरों में छिपे हुए हैं. जो कि प्रशासन के साथ साथ देश के लिए भी किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है.

वहीं देवभूमि उत्तराखंड में भी 3 जमातियों के कोरोना संक्रमित होने से हड़कंप मचा हुआ है. अबतक उत्तराखंड में कुल 10 लोग कोरोना संक्रमित हैं. खबर है कि जमात में शामिल होने वाले उत्तराखंड के 713 लोगों में 522 लोगों की पहचान हो चुकी है. इसमें 173 लोगों को क्वॉरंटाइन किया गया है. वहीं पहचान छुपाने वाले कई लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है. उत्तराखंड अधिसूचना तंत्र द्वारा जारी की गई जमात जाने वाले लोगों की लिस्ट में सबसे ज्यादा लोग देहरादून, हरिद्वार, ऊधम सिंह नगर, रुद्रपुर, नैनीताल से हैं.

लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने की सबसे बड़ी जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन के कंधों पर है. इसको लेकर पुलिस प्रशासन कहीं गांधीगिरी के साथ तो कहीं सख्ती के साथ ऐसे लोगों से निपट रही है. लॉकडाउन के बावजूद देश के कई हिस्सों में लोग एक स्थान से दूसरे स्थान पर जा रहे हैं. ऐसे लोगों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई करने में जुटी है.

विशेष