देश/प्रदेश

उत्तराखंड को मोस्ट फिल्म फ्रेंडली स्टेट का सम्मान

 देहरादून: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के विज्ञान भवन में 66वें नेशनल फिल्म अवॉर्ड्स का आयोजन किया गया. जहां उप-राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने विजेताओं को पुरस्कार दिये. 66वें नेशनल अवॉर्ड्स में फिल्म अंधाधुन, पद्मावत, बधाई हो, उरी- द सर्जिकल स्ट्राइक का बोलबाला रहा. महानायक अमिताभ बच्चन को दादा साहब फाल्के पुरस्कार सम्मान मिला. वहीं, उत्तराखंड राज्य को मोस्ट फिल्म फ्रेंडली स्टेट का सम्मान मिला है.

राज्य की ओर से पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने ये सम्मान ग्रहण किया. राज्य में फिल्म उद्योग की वृद्धि को आगे बढ़ाने के लिए उत्तराखंड को फिल्म फ्रेंडली स्टेट अवार्ड से पुरस्कृत किया गया है. गौर हो कि उत्तराखंड की खूबसूरत वादियों में अबतक कई बड़े बैनर की फिल्मों की शूटिंग हो चुकी है. वहीं देवभूमि अब कई निर्माताओं की पहली पसंद भी बनता जा रहा है.

अवार्ड की घोषणा अगस्त महीने में हुई थी. इस बार 23 गैर फीचर फिल्मों और 31 फीचर फिल्म की श्रेणी में पुरस्कार दिया गया है. ये पुरस्कार पहले 24 अप्रैल को घोषित होने थे, लेकिन लोकसभा चुनाव के कारण पुरस्कार की घोषणा देरी से हुई थी.

साल 2018 में भी उत्तराखंड सूचना प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा “दी मोस्ट फिल्म फ्रेंडली स्टेट अवार्ड” के अंतर्गत उत्तराखण्ड राज्य को “स्पेशल मेंशन सर्टिफिकेट फॉर फिल्म फ्रेंडली एनवायरनमेंट” अवार्ड के लिए चयनित किया गया था.

उत्तराखंड में अबतक शाहिद कपूर की कबीर सिंह और बत्ती गुल मीटर चालू, सारा अली खान और सुशांत सिंह राजपूत अभिनीत केदारनाथ, अजय देवगन प्रोडक्शन की फिल्म शिवाय, तिग्मांशु धूलिया निर्देशित राग देश, फिल्म स्टूडेंट ऑफ द इयर-2, जॉन अब्राहम द्वारा निर्मित फिल्म परमाणु व बाटला हाउस, रायफलमैन जसवंत सिंह रावत के साथ ही फिल्म शुभ मंगल सावधान की शूटिंग हुई है.

फिल्मों के साथ ही उत्तराखंड टीवी के लिये भी मुफीद स्थान बनता जा रहा है. सोनी टीवी पर प्रसारित सीरियल बड़े भैय्या की दुलहनिया, जी टीवी पर प्रसारित धारावाहिक पिया अलबेला’, एमटीवी रियलिटी शो स्प्लिट्सविला सीजन 10, धारावाहिक बेपनाह जैसे प्रमुख प्रोग्राम की शूटिंग राज्य में हुई है.

यही नहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक और बाबा रामदेव की बायोपिक भी यहां शूट हो चुकी है

विशेष