Latest Newsविविध

उत्तर प्रदेश को मिलेगा पहले स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट का तोहफा

उत्तर प्रदेश को राज्य का पहला स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट (एसआईएचएम) (State Institute of Hotel Management) मिलने जा रहा है. गोरखपुर (Gorakhpur) औद्योगिक विकास प्राधिकरण में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) आज यानी शुक्रवार को इसका शिलान्यास करेंगे. इस इंस्टीट्यूट में 400 से अधिक छात्र-छात्राओं को पढ़ाने की व्यवस्था होगी. साथ ही डिप्लोमा से लेकर बैचलर एवं मास्टर डिग्री के पाठ्यक्रम संचालित होंगे.मानव संसाधन विकास प्रभाग ने अपनी मंजूरी देते हुए 16.50 करोड़ रुपये आवंटित कर दिए हैं. इसमें 10 करोड़ रुपये बिल्डिंग निर्माण, 2.50 करोड़ रुपये उपकरण खरीद और चार करोड़ रुपये हॉस्टल निर्माण के लिए आवंटित किए गए हैं. करीब चार महीने पहले ही मानव संसाधन विकास प्रभाग के उप महानिदेशक, प्रदेश सरकार के प्रमुख सचिव और महाप्रबंधक पर्यटन एवं संस्कृति विभाग से जल्द इंस्टीट्यूट निर्माण के लिए डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार कर भेजने का निर्देश दिया है.

शहर के होटलों के साथ होगा इंस्टीट्यूट का अनुबंध

इंस्टीट्यूट में 400 से अधिक छात्र-छात्राओं को पढ़ाने की व्यवस्था होगी. शहर के होटलों के साथ इस संस्थान का अनुबंध भी होगा. संस्थान में होटल मैनेजमेंट के क्षेत्र में डिप्लोमा से लेकर बैचलर एवं मास्टर डिग्री तक के पाठ्यक्रम संचालित होंगे. पर्यटन विभाग द्वारा संचालित इस संस्थान में प्रवेश लेने वाले छात्रों को कम खर्च पर होटल मैनेजमेंट की पढ़ाई करने का मौका मिलेगा.

छात्रों को बांटे टैबलेट और स्मार्ट फोन

इससे पहले गुरुवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी में छात्रों को टैबलेट और स्मार्टफोन बांटे. उन्होंने कहा कि हम ये टैबलेट और स्मार्ट फोन UP के फाइनल ईयर, सेकंड ईयर, स्नातक प्रथम वर्ष, मेडिकल, पैरामेडिकल, फार्मेसी, नर्सिंग, पॉलिटेक्निक, ITI, इंजीनियरिंग से जुड़े और उन सभी बच्चों को देंगे जो प्रतियोगी परिक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं. वहीं वाराणसी में सीएम योगी आदित्यनाथ ने काशी विश्वनाथ मंदिर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दीर्घायु की कामना के लिए पूजा-अर्चना की. उन्होंने कहा कि सदैव बाबा की कृपा प्रधानमंत्री जी पर बनी रहे और उनका मार्गदर्शन पूरे भारतवासियों को निरंतर प्राप्त होता रहे. वहीं सीएम योगी श्री काल भैरव मंदिर, वाराणसी में भी दर्शन-पूजन के लिए पहुंचे.

Leave a Response