देश/प्रदेश

कछुआ गति से चल रहा अंडरग्राउंड केबल का कार्य

हरिद्वार: कुंभ में बिजली के तारों से निजात दिलाने के लिए हरिद्वार में भूमिगत बिजली की तारें बिछाने का कार्य चल रहा है.

पूरे हरिद्वार जिले में 900 किलोमीटर भूमिगत विद्युत लाइन बिछाने का कार्य किया जाना है. पहले चरण में 150 किलोमीटर का कार्य शुरू किया गया है, लेकिन जिस तरह से इस कार्य को गति पकड़नी चाहिए थी उस गति से न चलकर कछुआ चाल से लाइन बिछाने का कार्य किया जा रहा है.

उत्तराखंड ऊर्जा सचिव राधिका झा ने हरिद्वार पहुंचकर इस कार्य का जायजा लिया. उन्होंने मेला क्षेत्र में चल रहे भूमिगत बिजली के तार बिछाने के काम की धीमी रफ्तार पर संबंधित अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाई और तय समय में कार्यों को पूरा करने के दिशा निर्देश दिए.

ऊर्जा सचिव राधिका झा के साथ निरीक्षण के दौरान मेलाधिकारी दीपक रावत भी मौजूद रहे. राधिका झा ने कहा कि योजना सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट है जिसमें सभी केबलों को भूमिगत किया जाएगा. अंडरग्राउंड केबल का कार्य काफी मुश्किल काम होता है. सरकार का उद्देश्य है कुंभ से पहले इसको पूरा कर लिया जाए.

हरिद्वार में कुंभ मेले से पूर्व कुल 900 किलोमीटर में भूमिगत बिजली के तार बिछाने का काम होना है. पहले चरण में 150 किलोमीटर लाइन बिछाने का काम किया जा रहा है, जो बहुत धीमी गति से हो रहा है.

इसके लिए उन्होंने अधिकारियों को प्रतिदिन 7 किलोमीटर तार बिछाने के दिशा निर्देश दिए हैं. साथ ही काम सेफ्टी के साथ करने के लिए कहा गया है.

कहीं कोई पानी या अन्य लाइन जो टूट जाती है संबंधित विभाग के साथ तालमेल बनाकर समय से उसे ठीक किया जाए.

ऊर्जा सचिव राधिका झा ने भूमिगत विद्युत लाइन बिछाने के कार्यों का निरीक्षण कर अधिकारियों को सख्त हिदायत दी. अब देखना होगा कि ऊर्जा सचिव के निर्देश का अधिकारी कितना पालन करते हैं और कितनी जल्दी इस कार्य को पूरा करते हैं.

विशेष