Latest Newsउत्तराखंड

लक्सर में खनन कारोबारी से 10 लाख की रंगदारी में चाचा-भतीजा गिरफ्तार

लक्सर: खनन कारोबारी ने निहेंदपुर गांव निवासी एक अधिवक्ता और उसके चाचा पर धमकी देकर 10 लाख रुपये की रंगदारी मांगने का आरोप लगाया है। पुलिस ने कारोबारी की शिकायत पर मुकदमा दर्जकर आरोपित चाचा-भतीजा को गिरफ्तार कर लिया है। पंजाब के पटियाला निवासी अमृतपाल सिंह की फर्म गुरुकृपा ट्रेडर्स की ओर से लक्सर कोतवाली क्षेत्र के निहेंदपुर गांव के निकट मत्स्य पालन के लिए खोदाई कराई जा रही है। फर्म के हिस्सेदार रूपेंद्र सिंह निवासी जगतार नगर पटियाला तालाब की खोदाई का कार्य करा रहे हैं। रूपेंद्र सिंह ने लक्सर कोतवाली पुलिस को तहरीर देकर बताया कि निहेंदपुर गांव निवासी नासिर और उसका चाचा खुशनूद खोदाई के कार्य की प्रशासन से झूठी शिकायत कर उन्हें काफी समय से परेशान करते चले आ रहे हैं। नासिर पेशे से अधिवक्ता हैं तथा लक्सर तहसील में प्रैक्टिस करते हैं। रूपेंद्र के अनुसार जांच में हर बार शिकायतें झूठी पाई गई हैं।

आरोप है कि उक्त चाचा भतीजे से उसने झूठी शिकायत किए जाने की बाबत पूछा, तो उन्होंने 10 लाख रुपये की मांग की तथा 10 लाख न देने पर उन्हें किसी भी सूरत में यहां कार्य नहीं करने देने की धमकी दी गई। कारोबारी रूपेंद्र का आरोप है कि दो दिन पूर्व जब वह अपने साथी भूपेंद्र ठाकुर के साथ सुल्तानपुर जा रहा था तो रास्ते में अधिवक्ता नासिर उसके चाचा खुशनूद ने तीन-चार अज्ञात व्यक्तियों के साथ मिलकर उन्हें रोक लिया तथा उनसे 10 लाख की मांग की। इतनी बड़ी रकम दिए जाने में असमर्थता जताए जाने पर मारपीट कर दी, जिसमें उसके साथी भूपेंद्र ठाकुर बुरी तरह घायल हो गए। अपनी जान बचाने के लिए उसने उस वक्त अपने पास मौजूद 50 हजार की नकदी उन्हें दे दी। बाकी व्यवस्था बाद में करने को कहा तब जाकर उनकी जान बच सकी। उसके साथी भूपेंद्र का हरिद्वार के अस्पताल में इलाज चल रहा है। कोतवाल यशपाल सिंह बिष्ट ने बताया कि कारोबारी रूपेंद्र की तहरीर पर पुलिस ने आरोपित अधिवक्ता नासिर और उसके चाचा खुशनूद को गिरफ्तार कर लिया है।

Leave a Response