देश/प्रदेश

छावनी परिषद क्लेमेनटाउन के दो वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित

देहरादून,छावनी परिषद क्लेमेनटाउन में आगामी चुनाव के लिए महिला आरक्षण की तस्वीर साफ हो गई है। कैंट बोर्ड कार्यालय में महिला आरक्षित वार्ड के लिए लॉटरी निकाली गई। इसके बाद वार्ड एक और चार महिला आरक्षित किए गए हैं।

अगले वर्ष 10 फरवरी को देशभर की 56 छावनियों का पाच साल का कार्यकाल पूरा हो रहा है। जिसके बाद उत्तराखंड में स्थित नौ छावनी परिषदों में भी चुनाव होंगे। इससे पहले आरक्षण की प्रक्रिया पूरी की जानी है। कैंट इलेक्शन एक्ट के अनुसार महिला वार्ड का चयन जनता के सामने पर्ची सिस्टम से होता है।

छावनी परिषद के अध्यक्ष सुभाष पंवार व छावनी परिषद के मुख्य अधिशासी अधिकारी अभिषेक राठौर ने दो वार्ड महिला आरक्षित करने के लिए लॉटरी निकाली गई। वर्तमान में यहां वार्ड छह और सात महिला आरक्षित हैं। ऐसे में इन दो वार्डो को छोड़कर अन्य पाच वार्डो की पर्ची डाली गई। इसमें वार्ड एक और चार की पर्ची निकली।

वार्ड एक से वर्तमान में मोहम्मद तासीन और वार्ड चार से राम किशन यादव सभासद हैं। वार्ड एक में मोरोवाला व टर्नर रोड और वार्ड चार में मिलिट्री क्षेत्र, ओसले लाइन, एमईएस कॉलोनी आदि क्षेत्र आते हैं। छावनी परिषद में क्लेमेनटाउन में वर्तमान में 22557 मतदाता हैं।

इस दौरान उपाध्यक्ष सुनील कुमार, सभासद भूपेंद्र कंडारी, भाजपा नेता महेश पांडेय, सभासद रामकिशन यादव, मोहम्मद तासीन, टेक बहादुर, बीना नौटियाल, शाहीना अख्तर, पूर्व सभासद नरेंद्र सिंह रावत, कैप्टन उमादत्त सेमवाल, मोहम्मद यासीन आदि मौजूद रहे।

कैंट बोर्ड के चुनाव आगे भी खिसक सकते हैं। कारण ये कि रक्षा मंत्रालय छावनी अधिनियम-2006 में कुछ संशोधन के पक्ष में है। चुनाव में देरी पर बोर्ड को छह माह का एक्सटेंशन मिलेगा। इस स्थिति में आरक्षण की प्रक्रिया पुन: पूरी करनी होगी।

विशेष