सुनो सरकार

टनकपुर-जौलजीबी मार्ग के आधे-अधूरे पुलों के निर्माण से हुआ आवागमन प्रभावित

टनकपुर : सीमांत क्षेत्र के सुरक्षा की दृष्टि से ठूलीगाड़-रूपालीगड़़ मोटर मार्ग काफी महत्वपूर्ण है। इस सड़क से कई सीमांत गांव जुड़े हुए हैं। इस पर पुलों का निर्माण कार्य जल्दी पूरा नहीं होने से आवागमन की रफ्तार तेज नहीं हो पाई है। इस रोड को वर्ष 2018 में बनकर तैयार हो जाना था, लेकिन कार्य की धीमी गति के कारण यह संभव नहीं हो पाया है। बाद में इसकी समयावधि बढ़ाकर दिसंबर 2021 कर दी गई, लेकिन अभी तक इस मार्ग में बनने वाले पुलों का निर्माण कार्य पूरा नहीं हो सका है।

ठूलीगाड़ से रूपालीगाड़ तक 43 किमी का कार्य पीआइयू की देखरेख में किया जा रहा है। इस मार्ग पर तीन पुलों का निर्माण किया जाना है। जिसमें मात्र लादीगाड़ में ही एक पुल का कार्य पूरा हो पाया है। वहीं भवानीनाला व गौजीनाला दोनों पुलों का निर्माण कार्य चल रहा है। पीआइयू के इंजीनियर पीएस पोखरिया ने बताया कि अप्रैल माह तक दोनों पुलों का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा। ठूलीगागाड़ से आगे 17 किमी तक कटिग व डामरीकरण का कार्य पूरा हो चुका है। वहीं लधिया नदी में बनने वाले करीब एक किमी लंबे पुल का टेंडर 14 मार्च को होना है। वहीं दूसरे फेज का कार्य किन्हीं कारण निरस्त हो गया था। जिसे दोबारा दलीप सिंह अधिकारी को दिया गया है।

 

Leave a Response