विविध

महाराष्ट्र की राजनीति में मची हलचल, ठाकरे की सरकार खतरे में पड़ी

महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव के बाद शिवसेना (Shiv Sena) के मंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) नाराज बताए जा रहे हैं. माना जा रहा है कि वह शिवसेना हाईकमान से नाराज हैं. दावा है कि वह गुजरात स्थित सूरत के एक होटल में ठहरे हुए हैं और उनके साथ 29 विधायक भी हैं. वहीं, अब इस सबके बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आपात बैठक बुलाई और अब ताजा जानकारी के मुताबिक, एकनाथ के करीबी नेताओं को सूरत भेजा गया है. उद्धव के ये नेता एकनाथ से बातचीत कर उन्हें मनाने की कोशिश करेंगे.

महाराष्ट्र में इस राजनीतिक संकट के बीच अब बीजेपी मुख्यालय के बाहर लोगों ने जश्न मनाना शुरू कर दिया है. बीजेपी की ओर से सुबह दावा किया गया था कि उद्धव सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो गई है. बीजेपी नेता किरीट सौमैया ने ट्वीट करते हुए कहा, महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव परिणाम, शिवसेना (माफिया सेना) को 52 वोट मिले. 12 विधायक का विद्रोह (55 शिवसेना + 9 समर्थक = 64) उद्धव ठाकरे की माफिया सरकार का काउंट डाउन शुरू हो गया है.

ऐसे में ये समझना जरूरी हो जाता है कि, अगर एकनाथ समेत 29 विधायक/मंत्री सरकार से बगावत कर लेते हैं तो सरकार का क्या होगा? क्या सरकार गिर जाएगी? आइये देखते हैं…

बता दें, महाराष्ट्र में महाअघाड़ी गठबंधन जिसमें शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस मिलकर सरकार चला रहे हैं. विधानसभा में कुल विधायक की संख्या 287 है जिसमें से बहुमत के लिए 144 का आकड़ा है. वहीं, सरकार बनाने वाले शिवसेना के पास 55 विधायक हैं, एनसीपी के पास 55 विधायक हैं और कांग्रेस के पास 44 विधायक हैं. इन तीनों के आकड़े को मिलाकर 152 विधायक बनते हैं जो बहुमत के आकड़े से अधिक है. वहीं, शिवसेना के 29 बागी अगर इस आकड़े में से हट जाए तो ये आकड़ा 123 पर आकर थम जाएगा जो बहुमत से कम होगा. बता दें, इसी आकड़े के चलते बार-बार ये कहा जा रहा है कि अगर ऐसा होता है तो उद्धव सरकार खतरे में आ जाएगी.

वहीं, अब एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि, महाराष्ट्र सरकार को गिराने की कोशिश पहले भी की जा चुकी है. ये तीसरी बार सरकार को गिराने की साजिश हो रही है. उन्होंने कहा कि, वो आज मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात करेंगे. वहीं, उन्होंने इस दौरान दावा करते हुए कहा कि, ये मामला सुलट जाएगा. बता दें, इससे पहले शिवसेना सांसद संजय राउत ने भी दावा करते हुए कहा था कि, सरकार में किसी तरह का कोई भूकंप नहीं आया है. ये सब ठीक हो जाएगा.

Leave a Response