सुनो सरकार

उत्तरकाशी में पर्यटन स्थल वरुणावत टॉप को जोड़ने वाली सड़क वर्षों से बदहाल

उत्तरकाशी: जनपद मुख्यालय से महज 10 किमी की दूरी पर स्थित संग्राली गांव और पर्यटन स्थल वरुणावत टॉप को जोड़ने वाली सड़क वर्षों से बदहाल है. सड़क पर गड्ढे हादसों को दावत दे रहे हैं. संग्राली गांव के ग्रामीण कई बार शासन-प्रशासन और संबंधित विभाग से सड़क के डामरीकरण की मांग कर चुके हैं, लेकिन इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया गया. अब थक हारकर ग्रामीणों को श्रमदान कर सड़क की साफ सफाई की, जिससे ग्रामीणों और वरुणावत टॉप जाने वाले पर्यटकों को दुर्घटना से बचाया जा सके.

संग्राली गांव के ग्राम प्रधान संदीप सेमवाल का कहना है कि उत्तरकाशी-महिडंडा मोटर मार्ग से जुड़ा संग्राली गांव और पर्यटन स्थल वरुणावत टॉप को जोड़ने के लिए करीब 1 किमी लंबी सड़क है, जिसकी स्थिति वर्षों से इतनी बदहाल है कि सड़क पर हर समय दुर्घटना का खतरा बना रहता है. कई ग्रामीण और पर्यटक चोटिल भी हो चुके हैं. उन्होंने बताया कि शासन-प्रशासन और संबंधित विभाग ने जब नहीं सुनी तो ग्रामीणों ने खुद ही सड़क बनाने की ठान ली है. ग्रामीण सड़क से पत्थर और रोड़ी हटाकर आवाजाही के लिए सुरक्षित बना रहे हैं. 

ग्राम प्रधान सेमवाल का कहना है कि एक ओर सरकार वरुणावत टॉप को पर्यटन के क्षेत्र में विकसित करने के दावे कर रही है, लेकिन वरुणावत टॉप को जोड़ने वाली सड़क सालों से बदहाल पड़ी है. उधर, ग्रामीमों ने राज्य सरकार को घेरते हुए कहा कि उनके श्रमदान के बाद भी लोक निर्माण विभाग और प्रशासन की नींद नहीं टूटती है, तो आगे उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ेगा.

Leave a Response