देश/प्रदेश

मध्य प्रदेश के किसानों ने इमरान खान को भेजा पैगाम

पेटलावद  : ईरान से आयात के बाद भी टमाटर की किल्लत झेल रहे पाकिस्तान को मध्य प्रदेश के किसानों ने नया प्रस्ताव भेजा है।

झाबुआ जिले के पेटलावद के 150 से अधिक किसानों ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को ट्विटर और डाक विभाग के जरिए भेजे पैगाम में कहा है कि इमरान खान गुलाम कश्मीर दो और हमारे टमाटर ले लो।

इतना ही नहीं, किसानों ने पाकिस्तान से 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमले के लिए माफी की भी मांग की है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी ट्वीट किया है। पाकिस्‍तान में इस समय टमाटर 300 से 400 रुपये किलो के हिसाब से बिक रहा है।

ट्विटर के जरिए भारतीय किसान यूनियन की झाबुआ जिला इकाई ने इमरान से कहा कि बाघा बार्डर से आपके देश में टमाटर जाते थे, लेकिन आतंकवादियों और आपकी सेना ने हमारे देश के निर्दोष लोगों पर हमले किए, आतंकवाद फैलाया, 26/11 व पुलवामा जैसे हमले करवाए।

इसके बाद हमारे देश और हमने आपको टमाटर नहीं देने का फैसला लिया था। बीते दो दिनों की मीडिया रिपोर्ट में आपके देश में टमाटर को लेकर खराब हालत की जानकारी आई है।

अगर पाकिस्तान भारत के दुश्मनों को हमारी सरकार को सौंप दे और अनधिकृत रूप से कब्जा किए गुलाम कश्मीर को शांतिपूर्वक सौंप दे तो भाकियू उत्पादक किसानों के साथ टमाटर भेजने पर विचार कर सकती है।

उल्लेखनीय है कि यहां के किसानों ने कई साल तक पाकिस्तान को टमाटर निर्यात कर काफी मुनाफा कमाया था। किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष महेंद्र हामड़ ने कहा कि 18 सितंबर 2016 को हुए उरी आतंकवादी हमले के बाद से किसान नाराज थे और पाकिस्तान टमाटर भेजना बंद कर दिया थे। इससे पहले करीब डेढ़ दशक से पाकिस्तान टमाटर यहां से भेजे जाते थे।

पेटलावद का टमाटर चटखलाल रंग का होता है और खट्टे-मीठे स्वाद की वजह से पाकिस्तान में बहुत पसंद किया जाता है। एक टमाटर का वजन 50 से लेकर 150 ग्राम तक होता है। इसे दिल्ली और पठानकोट के रास्ते पाकिस्तान भेजा जाता था।

विशेष