Latest Newsउत्तराखंड

केंद्रीय कैबिनेट का फैसला, भारत-नेपाल के बीच महाकाली नदी पर बनेगा ब्रिज

कैबिनेट की बैठक के बाद ब्रीफिंग के दौरान केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया कि भारत-नेपाल के बीच महाकाली नदी पर 12 हजार करोड़ की लागत से ब्रिज बनाया जाएगा.

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि भारत-नेपाल के बीच महाकाली नदी के ऊपर धारचूला में एक पुल बनाने का निर्णय भी कैबिनेट की बैठक में लिया गया है. इससे संबंधित MoU जल्द साइन किया जाएगा. इससे उत्तराखंड में रहने वाले लोगों को लाभ होगा और नेपाल की तरफ रहने वाले लोगों को भी लाभ होगा.काली नदी उत्तराखंड में भारत और नेपाल की सीमा निर्धारित करती है.

उत्तराखंड के कुछ हिस्सों और उत्तर प्रदेश के मैदानी क्षेत्रों में पहुंचने पर इसे शारदा नदी के नाम से जाना जाता है. काली नदी सरयू की सबसे बड़ी सहायक नदी है, जो कि पंचेश्वर नामक जगह पर मिलकर सरयू बन जाती है. काली नदी धारचूला नगर से होकर गुजरती है और जौलजीबी नामक स्थान पर गोरी नदी से मिलती है, जहां से यह महाकाली के नाम से जानी जाती है. काली गोरी नदी के संगम पर हर वर्ष मेले का आयोजन किया जाता है, जो कि तीन देशों भारत, नेपाल और चीन के बीच व्यापारिक महत्व को दर्शाता है.

Leave a Response