उम्मीदें

टिहरी की जिलाधिकारी ने बनवाया रैन बसेरा, ठंड में ठिठुरने से बच रहे मुसाफिर

टिहरी: जिले में लगातार बढ़ रही ठंड में गरीब मुसाफिर और गांव से आने वाले लोग सड़क किनारे रहने को मजबूर होते हैं. ऐसे में इन लोगों के लिए डीएम इवा श्रीवास्तव के सहयोग से बौराड़ी बस अड्डे में 24 बेड का रैन बसेरा बनाया गया है. जिसमें सारी सुविधाएं मौजूद हैं. इस रैन बसेरे में जिला प्रशासन की तरफ से दो लोगों को नियुक्त किया गया है. जिनमें एक व्यक्ति साफ-सफाई और दूसरा व्यक्ति रैन बसेरे के रखरखाव के लिए काम करता है.

नई टिहरी नगर पालिका की अध्यक्ष सीमा किरसाली ने बताया कि आजकल इस रैन बसेरे में गांव की महिलाएं आई हुई हैं, जो यहां पर रह गई हैं. नगर पालिका की तरफ से रैन बसेरे में साफ सफाई की व्यवस्था की गई है. साथ ही किसी भी तरह की कोई जरूरत पड़ती है, तो यहां के देखरेख करने वाले कर्मचारी नगर पालिका से भी मदद लेते हैं. जिन्हें हम पूरी तरह से मदद देते भी हैं.

वहीं, नगर पालिका अध्यक्ष सीमा ने कहा प्रशासन ने ठंड के समय राहगीरों और मुसाफिरों के लिए सोचा. कोई ना कोई गरीब और मुसाफिर इस रैन बसेरे में रहने के लिए आता है. इस रैन बसेरा का एक रात का शुल्क ₹10 है, जिसे आसानी से मुसाफिर दे देते हैं. नगर पालिका अध्यक्ष सीमा किरसाली ने कहा कि मेरी जिला प्रशासन से मांग है कि नई टिहरी में एक बड़ा रैन बसेरा बनाया जाए, जिसमें कई लोग आसानी से रह सके.

Leave a Response