Latest Newsनेतागिरी

लैंसडाउन विधानसभा के दावेदार रघुवीर विष्ट के समर्थकों ने कांग्रेस मुख्यालय में की न्याय की मांग

raghubir bisht

देहरादून: उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए मतदान में कुछ दिन ही शेष है, लेकिन कांग्रेस में अंतर्कलह थमने का नाम नहीं ले रही है. लैंसडाउन से कांग्रेस ने हरक सिंह रावत की पुत्रवधू अनुकृति गुसाईं को टिकट दिया है, जिसको लेकर पार्टी में विरोध शुरू हो गया है. लैंसडाउन से कांग्रेस में टिकट के प्रबल दावेदार रहे रघुवीर बिष्ट के समर्थकों ने पार्टी मुख्यालय में मंडाण लगाकर अनुकृति गुसाईं के स्थान पर रघुबीर बिष्ट को टिकट देने के लिए प्रदर्शन किया.

रघुवीर बिष्ट के समर्थकों ने कांग्रेस प्रदेश मुख्यालय पर प्रदर्शन में कार्यकर्ताओं ने लैंसडाउन से गैर कांग्रेसी को टिकट दिए जाने का विरोध किया. गौरतलब है कि लैंसडाउन विधानसभा सीट से रघुवीर बिष्ट टिकट के लिए दावेदारी कर रहे थे, लेकिन पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया. जिसके विरोध में समर्थकों ने देहरादून स्थित कांग्रेस प्रदेश मुख्यालय में राजीव गांधी की प्रतिमा के समीप मंडाण लगाकर पुनर्विचार की मांग की .

अनुकृति गुसाईं को टिकट दिए जाने से नाराज समर्थक इंसाफ की गुहार लगाने कांग्रेस प्रदेश मुख्यालय पहुंचे. ताकि उनकी नाराजगी शीर्ष नेतृत्व तक पहुंचाई जा सके. मुख्यालय में रघुवीर बिष्ट के समर्थक नारद मुनि की वेशभूषा में प्रदर्शन करने पहुंचे और कांग्रेस पर लैंसडाउन विधानसभा से दावेदार रहे रघुवीर बिष्ट की अनदेखी का आरोप लगाया. रघुबीर बिष्ट विगत पांच साल से लगाकर क्षेत्र में रहकर कांग्रेस की जमींन तैयार करने में जुटे हुए थे,

वहीं, प्रदर्शन में शामिल कांग्रेस कार्यकर्ता अनिल रावत ने कहा बीते कई सालों से रघुवीर बिष्ट लैंसडाउन विधानसभा में सक्रिय थे और लगातार जनता के बीच जाकर कांग्रेस को मजबूत कर रहे थे, लेकिन कांग्रेस आलाकमान ने 2 दिन पहले कांग्रेस पार्टी में शामिल हुई अनुकृति गुसाईं को टिकट दे दिया. इससे कार्यकर्ताओं में भारी नाराजगी है. रघुवीर विष्ट के समर्थकों का कहना है कि यह उनका प्रदर्शन शांतिपूर्ण था. ताकि आलाकमान उनकी भावनाओं को समझ सके और एक बार टिकट पर पुनर्विचार करें.

Leave a Response