देश/प्रदेश

उत्तराखंड में गन्ना पेराई सत्र शुरू

हल्द्वानी: प्रदेश में गन्ना पेराई सत्र शुरू हो गया है. प्रदेश की 7 चीनी मिलों में से दो निजी चीनी मिलों ने पेराई सत्र की शुरुआत कर दी है, जबकि 4 सरकारी और एक निजी मिल में अभी पेराई शुरु होनी बाकी है. जिसके लिए गन्ना विभाग ने सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं.

इन मिलों में 20 नवंबर के बाद पेराई शुरू हो जाएगी. इसके साथ ही सरकार ने अभी तक न ही गन्ने का समर्थन मूल्य घोषित किया है और न ही पिछले पेराई सत्र का 238 करोड़ रुपये किसानों का मिला है.गन्ना आयुक्त ललित मोहन रयाल ने बताया कि किसानों को दी जाने वाली गन्ने की पर्ची के लिए इस बार ऑनलाइन प्रक्रिया की गई है.

किन किसानों से कितने क्विंटल गन्ना खरीदा जाना है, इसकी जानकारी किसानों को मैसेज के माध्यम से दी जा रही है. मैसेज के अनुसार ही चीनी मिलें गन्ने की खरीदारी करेंगी.उन्होंने बताया कि पिछले सत्र में 1170 करोड़ के गन्ने की खरीदारी की गई थी. जिसमें 932 करोड़ का भुगतान गन्ना किसानों को दिया जा चुका है.

जिसमें 43 करोड़ सरकारी मिलों की देनदारी बाकी है, जबकि 195 करोड़ निजी मिलों की देनदारी है. किसानों को भुगतान के लिए इन चीनी मिलों को नोटिस जारी किया गया है और जल्द ही किसानों को भुगतान कर दिया जाएगा. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि गन्ना सेंटरों पर घाटतौली की शिकायत पर सेंटर अधिकारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा.

विशेष