देश/प्रदेश

अल्मोड़ा के सोबन सिंह जीना कॉलेज में छात्रों का चढ़ा पारा

अल्मोड़ा: जिले के सोबन सिंह जीना कॉलेज में शुक्रवार को ऑफ लाइन फार्मों के वेरिफिकेशन को लेकर छात्र संघ पदाधिकारियों ने दिनभर हंगामा किया.

इस दौरान गुस्साए छात्रसंघ पदाधिकारियों एवं परिसर प्रशासन के बीच बहस इतनी उग्र हो गई की एक दूसरे पर पेट्रोल छिड़कने का आरोप-प्रत्यारोप लगाने लगे.

बाद में परिसर को अनिश्चितकालीन बंद करवा दिया गया. हंगामा बढ़ता देख मौके पर पहुंचे पुलिस बल ने दोनों पक्षों को समझा कर मामला शांत कराने का प्रयास किया.

छात्रसंघ अध्यक्ष दीपक उप्रेती का कहना है कि छात्र-छात्राओं ने जुलाई में परिसर में प्रथम सेमेस्टर में प्रवेश लिया और परिसर प्रशासन ने आज तक उनका वेरिफिकेशन नहीं किया.

उन्होंने कहा कि दूसरी ओर परीक्षा फार्म भरने की अंतिम तिथि आ गई और परिसर निदेशक वेरिफिकेशन करने वाले स्टाफ को छुट्टी पर होना बता रहे हैं, जबकि, परीक्षा फार्म की अंतिम तिथि शुक्रवार को निर्धारित की गई है.

उन्होंने कहा कि जिन छात्र-छात्राओं के विषय परिवर्तित करने थे परिसर प्रशासन ने प्रवेश अनुमोदन कार्ड में तो विषय बदले गये. किंतु पोर्टल में नहीं बदले गये.

लापरवाही के कारण परीक्षा फार्म भरते समम छात्र-छात्राओं को पुराने विषय प्रदर्शित हो रहे हैं. छात्र संघ अध्यक्ष ने कहा कि छात्रसंघ द्वारा 4 दिन की भूख हड़ताल की गई थी,

उन्हें 11 सूत्रीय मांगों को एक माह के भीतर पूरा करने का लिखित आश्वासन भी दिया था. लेकिन दो माह गुजर जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई है. परीक्षा फार्म व परीक्षा की तिथि दोनों को अभी तक आगे नहीं बढ़ाया गया है.

अध्यक्ष दीपक उप्रेती ने कहा कि उपरोक्त समस्याओं का निराकरण नहीं किया गया तो परिसर अनिश्चितकाल के लिए बंद रहेगा.

वहीं परिसर निदेशक प्रो. आरएस पथनी का कहना है कि परिसर में ऑन लाइन एवं ऑफ लाइन फार्म भरने की व्यवस्था की थी.

लेकिन, कुछेक ऑफ लाइन फार्म भरने वाले छात्र-छात्राओं का वेरिफिकेशन नहीं हो पाया है. जल्द ही परिसर प्रशासन द्वारा इसकी वैकल्पिक व्यवस्था कर दी जाएगी.

विशेष