देश/प्रदेश

झारखंड की यूनिवर्सिटी में छात्रा से गैंगरेप

 रांची: झारखंड की राजधानी में एक नामी यूनिवर्सिटी की छात्रा के साथ गैंगरेप की वारदात के बाद पूरी राजधानी में सनसनी फैल गई है.

छात्रा बस स्टॉप पर अपने एक दोस्त के साथ बात कर रही थी, उसी समय 6 की संख्या में आए अपराधियों ने उसे हथियार के बल पर अगवा कर लिया और पास के गांव में ले जाकर गैंगरेप किया.

गैंगरेप की वारदात को अंजाम देने के बाद छह आरोपियों ने अपने छह दूसरे साथियों को भी मौके पर बुलाया और उन्होंने भी छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया.

मंगलवार की शाम रांची के संग्रामपुर गांव के पास छात्रा अपने एक पुरूष मित्र के साथ बस स्टॉप के पास बैठ कर बात कर रही थी.

इसी दौरान एक कार पर सवार छह युवक आये और छात्रा के साथ छेड़खानी करने लगे. सभी युवक शराब के नशे में चूर थे और उनके पास हथियार भी था.

छात्रा के साथ हो रही छेड़खानी की घटना को लेकर उसके साथ मौजूद छात्रा के दोस्त ने विरोध किया तो सभी युवकों ने उसके साथ मारपीट की और फिर छात्रा को हथियार के बल पर कार में जबरदस्ती बैठाकर पास के ही गांव में एक ईंट भट्ठे के पास ले गए और वहां उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया.

मौके पर मौजूद आरोपियों ने अपने 6 और दोस्तों को फोन कर वहां पर बुलाया, जिसके बाद उन्होंने भी छात्रा के साथ दुष्कर्म किया.

गैंगरेप की वारदात के बाद छात्रा काफी देर तक बेहोश रही. इस दौरान 12 आरोपी वहीं बैठे रहे. छात्रा के होश आने के बाद उसे वापस बस स्टॉपे छोड़ दिया और सभी आरोपी मौके से फरार हो गए.

पीड़ित छात्रा किसी तरह अपने दोस्त के पास पहुंची और उसके साथ कांके थाना पहुंची और पुलिस को मामले की जानकारी दी. छात्रा के साथ 12 लोगों द्वारा गैंगरेप की वारदात सुनते ही पुलिस के होश उड़ गए. कांके थाना प्रभारी विनय सिंह ने अपने सीनियर पुलिस अधिकारियों को मामले की जानकारी दी.

आनन-फानन में रांची के सीनियर एसपी ने अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए एक विशेष टीम का गठन किया. छात्रा के बताए गये हुलिए की जानकारी थाना क्षेत्र में रहने वाले मुखबिरों को दी गई.

हुलिए के अनुसार कुछ मुखबिरों ने आरोपियों को पहचानने का दावा किया, जिसके बाद विशेष टीम ने सबसे पहले आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया. फिर उनसे पूछताछ के आधार पर फरार चल रहे चार अपराधियों को भी गिरफ्तार कर लिया.

छात्रा का अपहरण कर उसके साथ गैंगरेप की वारदात सामने आने के बाद पूरा रांची पुलिस प्रशासन सवालों के घेरे में है.

पुलिस विधानसभा चुनावों को लेकर यह दावा कर रही थी कि हर जगह पुलिस की चेकिंग अभियान चलाई जा रही है. इसके बावजूद शाम 7 बजे एक छात्रा को हथियार के बल पर अगवा किया जाता है और उसके साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया जाता है.

विशेष