देश/प्रदेश

राज्य और केंद्र वित्त की धनराशि नहीं हो पाई खर्च, अब होगा पीएफएमएस के जरिये भुगतान

पिथौरागढ़: मार्च 2019 से राज्य वित्त और 14वें वित्त की धनराशि खर्च नहीं हो पाई है. वहीं, वित्तीय साल का आखिरी महीना शेष रह गया है. मगर ग्राम पंचायत में विकास के लिए मिली राज्य वित्त की धनराशि मात्रा 25 फीसदी खर्च हो पाई है. जबकि केंद्र वित्त से मिली धनराशि का एक भी ढेला खर्च नहीं हुआ है. जिससे ग्राम प्रधान भी खासे आक्रोशित है.

पंचायत राज विभाग का कहना है कि शासन के निर्देश पर राज्य और केंद्र वित्त की धनराशि का पीएफएमएस से भुगतान किया जाना है. जिसके लिए ग्राम पंचायत विकास अधिकारी, लेखाकार और डाटा एंट्री ऑपरेटर को प्रशिक्षित किया गया है. साथ ही भुगतान की प्रक्रिया शुरू कर दी है.

ग्रामीण क्षेत्रों में विकास के लिए मिलने वाला राज्य वित्त और 14वें वित्त का बजट अभी तक खर्च नहीं हो पाया है. राज्य वित्त के तहत ग्राम पंचायत के लिए नौ करोड़ 16 लाख की धनराशि मिली है. जिसमें अब तक सिर्फ दो करोड़ के लगभग धनराशि खर्च की गई है. जबकि केंद्र वित्त के तहत जिले को 41 करोड़ नौ लाख धनराशि मिली है. जिसमें से एक पाई भी अभी तक खर्च नही हो पाई है. यही हाल राज्य वित्त के क्षेत्र पंचायत अंश का भी है. इसके तहत जिले को छह करोड़ 91 लाख की धनराशि मिली है. जो बिल्कुल भी खर्च नहीं हो पायी है.

विशेष