देश/प्रदेश

स्मैकिए युवती को नशा देकर बनाते रहे शारीरिक संबंध

हल्द्वानी : स्मैकिए युवती को नशा देकर उसका शारीरिक शोषण करते रहे। बीते दिनों किसी तरह विधिक सेवा प्राधिकरण पहुंची, जहां से मेडिकल जांच को एसटीएच भेजने पर उसके गर्भवती होने की पुष्टि होने के बाद युवती अस्पताल से भाग निकली।

स्मैक की गिरफ्त में अब हल्द्वानी शहर की लड़कियां भी आ चुकी हैं। नशे के दलदल में डूब चुकी ये युवतियां लत पूरी करने को किसी भी हद तक पहुंच रही हैं।

इधर, 11वीं की एक छात्रा अपने साथियों के झांसे में आकर नशे की आदी हो गई। धीरे-धीरे दोस्तों ने स्मैक पिलाकर उसे नशे में बेसुध कर दिया। इसका फायदा उठाकर उसके साथियों ने उसका शारीरिक शोषण किया। सूत्र बताते हैं कि नशे की गिरफ्त में आ चुकी युवती को स्मैक की खुराक की एवज में हर नशेड़ी उसका फायदा उठाने लगा।

दो दिन पहले युवती किसी तरह जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पहुंची, जहां से उसे निर्वाण डी एडिक्शन सेंटर सौंप दिया गया। युवती को शनिवार को जांच के लिए एसटीएच ले जाया गया। मेडिकल के दौरान युवती आठ माह की गर्भवती पाई गई।

इस पर अस्पताल प्रशासन ने जानकारी पुलिस को भेजी। मगर शाम के वक्त युवती टायलेट जाने के बहाने वहां से भाग निकली। युवती के गायब होने से अस्पताल में हड़कंप मच गया। अस्पताल के अंदर काफी खोजबीन के बावजूद उसका कोई सुराग नहीं मिला।

युवती के माता-पिता की मौत हो चुकी है। छोट भाई-बहन हैं, जो नाना संग रहते हैं। जिन स्मैकियों ने युवती को स्मैक का लती बनाया, उन्होंने छोटे भाई को भी नशे का आदी बना दिया। नाना दोनों बच्चों का नशा छुड़ाने के लिए कई लोगों से गुहार लगा चुके हैं।

डॉ.  अरुण जोशी, एमएस, एसटीएच ने बताया कि युवती के खून आदि की जांच की गई। इसमें वह गर्भवती पाई गई थी। शाम को टायलेट जाने का बहाना बनाकर अस्पताल से भाग गई। पुलिस को सूचना दी गई है।

विशेष