देश/प्रदेश

खून जमा देने वाली ठंड में दुल्हनिया लेने पहुंचा शहजादा

उत्तरकाशी:इन दिनों प्रकृति बर्फबारी से देवभूमि का श्रृंगार कर रही है. बर्फबारी की सफेद चादर ने पहाड़ों में ठंड बढ़ा दी है, लेकिन इस खबर को पढ़कर आपका चेहरा खिल उठेगा.

शहरों में कहां ऐसी अलौकिक शादियां नसीब होती हैं. चारों ओर फैली बर्फ और उस बर्फ के बीच चलती बारात.उत्तरकाशी के सीमान्त गोकुल गांव का दूल्हा कालू चरण भारी बर्फबारी के बीच 12 किमी.

पैदल सफर तय कर बारात लेकर पिलंग गांव पहुंचा. जहां भारी बर्फबारी के बीच ही शादी की सभी रस्में निभाई गईं. शादी के दौरान जहां इस जोड़े पर लोग पुष्पवर्षा कर रहे थे, वहीं प्रकृति इस नवदंपति पर बर्फबारी से आशीर्वाद दे रही थी.

इसयादगार लम्हे को हर कोई अपने जेहन में कैद कर लेना चाहता था. पिलंग गांव के लोगों के सामने भी चुनौतियां कम नहीं थी.

हाड़कंपा देने वाली ठंड में भी उन्होंने बारातियों का जोरदार स्वागत किया. गोकुल गांव के कालू चरण और पिलंग गांव की यमुना की शादी बर्फबारी के बीच खास बन गई.

 

विशेष