चम्पावत

जहर गटकने से गंभीर होम क्वारंटाइन महिला की मौत

टनकपुर : लखनऊ से दस मई को लौटी विवाहिता ने होम क्वारंटाइन में रहते हुए रविवार को जहर गटक लिया। हालत गंभीर होने पर उसे संयुक्त अस्पताल ले जाया गया। वहां डॉक्टरों ने उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया, लेकिन किसी भी अस्पताल ने भर्ती नहीं लिया। इसपर परिजन उसे घर लेते गए। मंगलवार सुबह उसने दम तोड़ दिया।

क्षेत्र के खेतखेड़ा निवासी 24 वर्षीय बबिता की शादी 24 अप्रैल 2019 को नदन्ना चकरपुर निवासी रमेश अधिकारी के साथ हुई। शादी के कुछ दिन बाद से ही दोनों में अनबन शुरू हो गई। इसपर वह ससुराल छोड़ लखनऊ में एक निजी कंपनी में काम करने चली गई। लॉकडाउन में कंपनी के बंद होने के बाद दस मई को वापस अपने मायके खेतखेड़ा जाने को टनकपुर आ गई। प्रशासन ने उसे होम क्वारंटाइन का आदेश दिया। मगर ग्रामीणों और प्रधान ने विरोध कर दिया।

इस पर बबिता दोस्तों की मदद से मनिहारगोठ में किराए पर कमरा लेकर रहने लगी। इस बीच रविवार को उसने विषाक्त पदार्थ गटक लिया। मौके पर पहुंचे परिजन उसे संयुक्त अस्पताल ले गए। वहां डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया, लेकिन किसी भी अस्पताल ने भर्ती करने से मना कर दिया। इसके बाद सोमवार देर रात बबिता के भाई उसे अपने घर खेतखेड़ा ले आए। मंगलवार सुबह उसने दम तोड़ दिया। कोरोना जांच के बाद ही होगा पोस्टमार्टम

कोतवाल धीरेंद्र कुमार ने बताया कि बबिता की शादी हुए एक साल ही बीते हैं। लिहाजा पोस्टमार्टम मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में होना है। वह लखनऊ से भी आई थी। लिहाजा स्वास्थ्य विभाग ने स्वैब कोरोना जांच के लिए भेजा है। अगर रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो पोस्टमार्टम नहीं किया जाएगा।