देश/प्रदेश

सतपाल जी महाराज अपनी विधानसभा क्षेत्र के गांवों के विकास में करते हैं भेदभाव

सतपाल जी महाराज अपनी विधानसभा क्षेत्र के गांवों के विकास में करते हैं भेदभाव

पौड़ी गढ़वाल : चौबटयाखाल विधानसभा क्षेत्र के विधायक एक आध्यात्मिक गुरु व उत्तराखंड सरकार के पर्यटन मंत्री है

यूं तो जब सतपाल महाराज जी चुनाव लड़के जीते थे तब पूरे चौबटयाखाल विधानसभा क्षेत्र में खुशी की लहर आ गई थी लोगो ने सोचा कि जो विकास उत्तराखंड बनने के बाद नही हुआ था वह अब अवश्य होगा क्योंकि चौबटयाखाल विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व खुद यही का व्यक्ति करने जा रहा था क्योंकि सतपाल महाराज जी खुद धैडगांव के निवासी हैं वैसे ऐसा नहीं है कि सतपाल महाराज जी विकास नही कर सकते

क्योंकि यदि सतपाल महाराज जी चाहे तो बिना सरकार की मदद के अपनी विधानसभा के एक एक गांव को 1 माह में स्विजरलैंड बना सकते हैं परन्तु शायद महाराज जी भी माया के मोह में फंस चुके हैं

कांडाखाल कौड़िया में इंटर कॉलेज प्रथमिक विद्यालय सभी है पर सड़क नही है जिसके कारण वर्षो पुराना 15 गाओं का कांडाखाल बाजार आज खण्डर में तब्दील हो चुका है

अब आपको समस्या से अवगत कराते हैं सतपाल महाराज जी की विधानसभा क्षेत्र के कांडाखाल कौड़िया में *प्राथमिक विद्यालय कांडाखाल* इसी 2020 में 100 साल पूरे करने जा रहा है ये विद्यालय बिर्टिश शासनकाल में बना था इस विद्यालय में उस समय 25 से30 गांव के बच्चे शिक्षा ग्रहण करते थे आज भी इस विद्यालय में 7 गांव के बच्चे पढ़ते हैं जिसमे इन सात गांव में से 6 गांव विधानसभा चौबटयाखाल में आते हैं (गांव के नाम कांडाखाल, कांडामल्ला, पठखोली,भेगलाषी,गैडगढ़, कांडातल्ला,) और एक गांव विधानसभा लैंसडाउन में आता है(किमार)
इस विद्यालय में 30 से ऊपर बच्चे पढ़ते हैं अब रहा शिक्षा की स्थिति का तो इस विद्यालय में पहले से ही शिक्षा की स्थिति अच्छी रही है और अब तो जब से इस विद्यालय में दो युवा अध्यापक आये तो यहाँ के बच्चे अब खेल में भी जिला स्तर राज्य स्तर पर खेल रहे हैं इन दो अध्यापकों का नाम है मिस्टर अर्जुन सिंह नेगी व मिस्टर राठी अब जब बिर्टिश शासनकाल के विद्यालय का शताब्दी समारोह का समय आया तो पूरे क्षेत्र वासियों में खुशी की लहर आ गई

तो इस समारोह को भव्य तरीके से मनाया जाय तो इसके लिए धन की आवश्यकता है तो विद्यालय के गुरुजनों व क्षेत्र वासियो ने स्थानीय विधायक सतपाल जी महाराज से संपर्क किया तो महाराज जी के पी आर ओ राय सिंह नेगी ने विद्यालय का भर्मण किया व आस्वाशन दिया कि वे जल्द विद्यालय के सौंदर्यीकरण के लिए धन उपलब्ध कराएंगे लेकिन शायद वे उसके बाद भूल गए बीच में उन्हें स्थानीय समाजसेवी इन्द्रजीत असवाल ने याद भी दिलाई पर वे फिर भूल गए शायद उनकी याददाश्त सही नहीं है

लेकिन अब आपको अच्छी न्यूज़ बताते हैं जब शताब्दी वर्ष की खबर नवनिर्वाचित ज़हरीखाल ब्लॉक प्रमुख माननीय दीपक भंडारी ने सुनी तो तुरंत उनके द्वारा विद्यालय सौंदर्यकरण के लिए 1 लाख रुपए तत्काल प्रभाव से मंजूर कर दिये गए अब देखो विद्यायक जिसके पास बड़ी निधि है वो सुन्न हो कर बैठा है और नए नए ब्लॉक प्रमुख ने इस खुशी को दुगनी करने के लिए अपनी ओर से राशि जारी कर दी अब देखो की अगली बार यदि चुनावी समर आया तो जनता कमजोर याददाश्त वाले को चुनेगी या युवा जोश को ये आने वाला वक्त बतौएगा

विशेष