देश/प्रदेश

गंगोत्री धाम में ठंड लगने से साधु की मौत

उत्तरकाशी: इन दिनों गंगोत्री धाम सफेद चादर से ढका हुआ है. ऐसे में यहां संचार और विद्युत सेवाएं भी पूरी तरह से ठप है. पिछले एक माह से यहां लोग अंधेरे में जीने को मजबूर है.

धाम में तापमान 6 डिग्री से भी कम है. वहीं, बीते दिनों ठंड लगने के कारण यहां एक साधु मौत हो गई. साधु समाज का कहना है कि अगर धाम में बिजली और संचार सेवाएं बहाल रहती तो साधु का जीवन बच सकता था.

क्योंकि साधु भी तबीयत बिगड़ने पर आमस्मिक स्वास्थ्य सेवा से सम्पर्क नहीं हो पाया और इलाज के अभाव में उनकी मौत हो गई.

बता दें कि गंगोत्री धाम में इन दिनों करीब तीन से चार फीट तक बर्फ जमी है. जिस कारण वहां रह रहे साधु समाज सहित मन्दिर समिति के कर्मचारियों और मजदूरों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

विगत एक माह से यहां विद्युत और संचार सेवाएं ठप पड़ी हुई है. बिजली और संचार सेवा न होने से गंगोत्री धाम का साधु समाज देश-दुनिया से अलग-थलग पड़ा हुआ है.

साध्वी धर्मानिष्ठ गिरी का कहना है कि 26 नवम्बर से धाम में बिजली और संचार सेवाएं ठप पड़ी हुई है. ठंड के कारण एक साधु की तबीयत बिगड़ गई थी. संचार सेवा न होने के कारण किसी से संपर्क नहीं हो पाया. ऐसे में इलाज के अभाव में उनकी मौत हो गई.

विशेष