उम्मीदें

सुरकंडा देवी मंदिर में फिर शुरू हुआ रोपवे का संचालन, पहुंचने लगे श्रद्धालु

सुरकंडा देवी रोपवे का मंगलवार को एक महीने बाद फिर से संचालन शुरू हो गया है। सुबह से करीब 50 श्रद्धालु रोपवे से पूजा-अर्चना के लिए सुरकंडा मंदिर पहुंचे। बता दें कि सुरकंडा देवी रोपवे में बीती 10 जुलाई को अनाचक तकनीकी दिक्कत आने से ट्रालियां अचानक कई फीट ऊंचाई पर हवा में ही रुक गई थी। रोपवे की ट्राली में सवार टिहरी विधायक किशोर उपाध्याय समेत लगभग 30 श्रद्धालु 25 मिनट तक हवा में ही लटके रहे। बाद में रोपवे संचालनकर्ता कंपनी के इंजीनियरों ने सभी ट्राली को सुरक्षित प्लेटफार्म पर उतारा।

बताया गया कि ट्राली का चक्का स्लिप होने की वजह से यह दिक्कत आई थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसडीएम धनोल्टी लक्ष्मीराज चौहान ने तकनीकी जांच होने तक रोपवे का संचालन बंद करने के निर्देश जारी किए थे। अगले ही दिन 11 जुलाई को  ब्रिडकुल (ब्रिज रोपवे टनल एंड अदर इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉपोरेशन ऑफ उत्तराखंड ) की तकनीकी टीम ने सुरकंडा पहुंचकर रोपवे की जांच की थी। ब्रिडकुल की टीम ने जांच रिपोर्ट में रोपवे का एलाइनमेंट आउट होने से ट्रॉली में दिक्कत आने की पुष्टि की थी और कंपनी को तकनीकी दिक्कतें  दूर करने को कहा था।

कोलकाता से कंपनी के इंजीनियरों ने सुरकंडा पहुंचकर रोपवे का मरम्मत कार्य शुरू किया था। 22 जुलाई को सुरकंडा रोपवे का एक दिन के लिए संचालन किया गया था। उसी दिन फिर से प्रशासन ने संचालन बंद कर दिया था। ब्रिडकुल की तकनीकी टीम ने फिर से रोपवे की तकनीकी जांच की। जांच में रोपवे की ट्राली संचालन के लिए उपयुक्त पाई गई। एसडीएम लक्ष्मीराज चौहान ने बताया कि मंगलवार से रोपवे का विधिवत संचालन शुरू कर दिया गया है।

Leave a Response