देश/प्रदेश

खाई में अटकी रोडवेज, बस में सवार 35 यात्रियों की अटकी सांसे

थराली: नगर के पिंड़र घाटी की मुख्य मोटर मार्ग ग्वालदम-थराली-कर्णप्रयाग मोटरमार्ग पर बीआरओ द्वारा किए जा रहे सड़क के चौड़ीकरण और हॉटमिक्स कार्य में बड़ी चूक देखने को मिली है. जिसके चलते यात्रियों से भरी एक रोड़वेज की बस दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बची. जिससे एक बड़ा हादसा होने से टल गया.

जानकारी के अनुसार शनिवार शाम काठगोदाम डिपो की दिल्ली से देवाल को आ रही बस का टॉयर सड़क पड़े मलबे के चलते ग्वालदम के पास सड़क से बाहर चला गया. तभी चालक ने सुझबुझ दिखाते हुए ब्रेक लगा दिए. आनन-फानन में बस में सवार सभी यात्रियों को बस से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया. जिससे एक बड़ा हादसा होने से टल गया.

थराली थाना प्रभारी थानाध्यक्ष जगमोहन पड़ियार ने बताया की जिस समय यह घटना हुई उस समय बस में करीब 35 सवारियां सवार थी. बता दें कि लंबे समय से बीआरओ द्वारा इस सड़क का चौड़ीकरण व हॉटमिक्स का कार्य किया जा रहा है. कई बार क्षेत्रीय जनता बीआरओ की कार्यप्रणाली को लेकर सवाल उठा चुकी है. लेकिन प्रशासन ने जनता की शिकायतों पर कोई ध्यान नहीं दिया है.

वहीं थराली के पूर्व ब्लाक प्रमुख सुशील रावत, देवाल के डीडी कुनियाल, यूकेडी नेता पुष्कर सिंह फर्स्वाण का कहना है कि बीआरओ के द्वारा जहां जगह-जगह पर सड़क कटिंग का मलबा फेंका गया है. साथ ही कई स्थानों पर पत्थरों के ढे़र लगाए गए हैं. जिससे हमेशा दुर्घटना का अंदेशा बना हुआ है.

विशेष