Latest Newsउत्तराखंड

केदारनाथ धाम के रावल भीमाशंकर लिंग ने CM धामी से की मुलाकात

देहरादून: चारधाम यात्रा 2022 का 3 मई से आगाज होने जा रहा है. केदारनाथ धाम के कपाट 6 मई को खुलेंगे. शासन-प्रशासन चारधाम यात्रा की तैयारियों में जुटा है. इस बीच आज केदारनाथ धाम के रावल भीमाशंकर लिंग ने देहरादून पहुंचकर सीएम आवास पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात की है. इस दौरान कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी भी मौजूद रहे.

रावल की मुलाकात के मायने: पुष्कर सिंह धामी उत्तराखंड सरकार के मुखिया हैं. भीमाशंकर लिंग ने सीएम को केदारनाथ धाम के कपाट खुलने के अवसर पर धाम में आने का निमंत्रण दिया होगा. चारधाम यात्रा 3 मई से शुरू हो रही है. केदारनाथ धाम के कपाट 6 मई को खुलेंगे. ऐसे में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी कपाट खुलने के मौके पर पर अगर केदारनाथ जाएंगे तो यात्रा को लेकर सकारात्मक संदेश जाएगा.

तीर्थ पुरोहितों का आरोप: तीर्थ पुरोहितों का कहना है कि कितनी बड़ी विडंबना है कि देवस्थानम बोर्ड की खामियों को लेकर ही सरकार ने देवस्थानम बोर्ड भंग किया था और अब राष्ट्रीय धरोहर नाम से नया षड़यंत्र रचा जा रहा है, जिसको किसी भी कीमत पर स्वीकार नहीं किया जाएगा.

तीर्थ पुरोहितों का कहना है कि केदारनाथ धाम को राष्ट्रीय धरोहर घोषित किये जाने के पीछे सरकार की मंशा यहां की जमीन व भवनों को हड़पने की है. सदियों से चली आ रही परंपरा को समाप्त करने की है. सरकार का यह भी मकसद है कि मंदिर में पूजा-अर्चना व अन्य कार्यों के जरिये रोजगार करने वाले लोगों को बेरोजगार किया जाए. जो कार्य उत्तराखंड सरकार देवस्थानम बोर्ड लागू करके न कर सकी, उस कार्य को इस प्रकार के हथकंडे अपनाकर किया जा रहा है.

Leave a Response