देश/प्रदेश

फूलों की घाटी में कैमरा ट्रैप में नजर आए दुर्लभ वन्य जीव

जोशीमठ : विश्व प्रसिद्ध फूलों की घाटी में शीतकाल के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। निगरानी के लिए घाटी और आसपास के वन क्षेत्र में 13 कैमरा ट्रैप लगाने के साथ ही नंदा देवी राष्ट्रीय पार्क की टीम समय-समय पर गश्त भी कर रही है। इस दौरान टीम को कैमरा ट्रैप में कई दुर्लभ जीव नजर आए।

वन क्षेत्राधिकारी धीरेश बिष्ट ने बताया कि इन दिनों फूलों की घाटी में तीन से चार फीट बर्फ की चादर बिछी हुई है। ऐसे में तस्करों की गतिविधि बढ़ने का खतरा बना रहता है।

इसके लिए समय-समय पर पार्क की टीम लम्बी दूरी की गश्त करती है। उन्होंने बताया कि अब तक तीन बार की गश्त की जा चुकी है। बिष्ट के अनुसार टीम का कैमरा ट्रैप में दुर्लभ वन्य जीव हिमालयन ब्लैक बीयर, हिमालयन थार और कस्तूरा मृग भी दिखाई दिए।

इसके अलावा कुछ स्थानों पर स्नो कॉक और रेड फॉक्स भी नजर आए। उन्होंने बताया कि 31 अक्टूबर को फूलों की घाटी के गेट बंद करने से पहले पार्क प्रशासन ने वहां पांच गुफाओं की मरम्मत का कार्य किया था।

अब ये गुफाएं वन्यजीवों का आसरा बनी हुई हैं। उन्होंने बताया कि पार्क की टीम नियमित तौर पर गश्त कर रही है, लेकिन कई बार विषम भूगोल के साथ ही और मौसम की दुश्वारियों के बीच हर जगह पहुंचना मुमकिन नहीं होता। ऐसे में कैमरा ट्रैप की मानिटिरिंग से सुरक्षा पुख्ता हो जाती है।

विशेष