नेतागिरी

राहुल गाँधी ने किच्छा में उत्तराखंडी किसान स्वाभिमान संवाद’ को किया संबोधित

रुद्रपुर: उत्तराखंड विधानसभा चुनाव 2022 में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी प्रचार-प्रसार के लिए चुनावी मैदान में उतर चुके हैं. कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने उधमसिंह नगर जिले में किसानों की एक जनसभा को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने बीजेपी पर जमकर प्रहार किया.

किच्छा मंडी में ‘उत्तराखंडी किसान स्वाभिमान संवाद’ में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया है कि इस समय देश में कोई प्रधानमंत्री नहीं बल्कि एक राजा शासन कर रहे हैं. गांधी ने आरोप लगाया कि ये राजा जनता से उम्मीद करते हैं कि वे उनके फ़ैसलों पर कुछ न बोलें, बल्कि चुप रहें.

राहुल गांधी ने कहा कि किसान आंदोलन ने सत्ताधारी अहंकारियों का घमंड चूर कर दिया था. इस बात से नाराज तानाशाहों ने किसानों पर झूठे मुकदमे दायर कर दिए. कांग्रेस की सरकार आते ही उन सभी मुकदमों को वापस लिया जाएगा. राहुल गांधी ने दावा किया कि कांग्रेस पार्टी किसानों, युवाओं, मजदूरों या गरीबों के लिए अपने दरवाज़ कभी बंद नहीं करेगी, बल्कि उनके साथ मिलजुल कर सरकार चलाएगी.

राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस में रैली में उत्तसाहित उत्तराखंड के अन्नदाता इस बात का प्रमाण हैं कि तानाशाह और किसान विरोधी इस सरकार से त्रस्त हो चुकी देवभूमि अब परिवर्तन के लिए तैयार है. उत्तराखंड के किसानों के चेहरे पर खुशहाली लाने के लिए कांग्रेस कई योजनाएं धरातल पर ला रही है, जिससे उनका जीवनस्तर बेहतर हो सके.

कांग्रेस कल भी किसानों के साथ खड़ी थी, आज भी है और आगे भी रहेगी. कांग्रेस ने हमेशा किसानों का साथ दिया है. कांग्रेस हर अच्छे-बुरे दौर में, हर कदम पर उनके साथ खड़ी रही है. यहां उन्हें जो आत्मीय स्नेह मिला है, वो उत्तराखंड में बदलाव का संकेत दे रहा है. कांग्रेस के प्रति लोगों में विश्वास बढ़ा है, जो देवभूमि में विकास की नई कहानी लिखेगा.

राहुल गांधी ने कहा कि किसानों को उनका अधिकार दिलाना, भ्रष्ट तंत्र से मुक्त कराना, कांग्रेस का संकल्प है. इसके लिए कांग्रेस सत्ता में आते ही आवश्यक कार्रवाई करेगी. किसान और कांग्रेस का रिश्ता बहुत पुराना रहा है. कांग्रेस हमेशा ही किसानों के हित में कार्य करती आयी है. किसानों के जीवन को सफल, सरल और समृद्ध बनाना, कांग्रेस का लक्ष्य है.

Leave a Response