देश/प्रदेश

श्राइन बोर्ड के प्रस्ताव पर प्रीतम सिंह ने सरकार को घेरा

देहरादून: चारधाम श्राइन बोर्ड विधेयक 2019 को मंजूरी देने के बाद से ही उत्तराखंड सरकार के फैसले का विरोध जारी है. चारों धामों के तीर्थ पुरोहितों ने सरकार के इस फैसले का तीखा विरोध किया है. वहीं, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने भी इस मामले में भाजपा सरकार पर तीखा हमला किया.

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि सरकार ने चारों धामों को श्राइन बोर्ड की तर्ज पर बनाने का प्रस्ताव रखा है. इस फैसले से पहले सरकार को तीर्थ पुरोहितों और स्थानीय लोगों को विश्वास में लेना चाहिए था. उन्होंने सरकार पर आरोप लगाया कि इसके संचालन के लिए भी सरकार ने कुछ साफ नहीं किया है.

प्रीतम सिंह ने कहा कि इस फैसले से पुरोहितों और स्थानीय लोगों की उपेक्षा होगी. आगे के लिए सरकार का इस पर क्या ब्लूप्रिंट होगा, उससे ही आगे की स्थिति साफ हो पाएगी.

बता दें कि सरकार ने गंगोत्री, यमुनोत्री, बदरीनाथ और केदारनाथ सहित 51 मंदिरों की व्यवस्थाएं वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की तर्ज पर संचालित करने का फैसला लिया है. जिसको लेकर तीर्थ पुरोहितों में खासी नाराजगी देखी जा रही है. तीर्थ पुरोहितों का कहना है कि इस फैसले के खिलाफ वे न्यायालय का दरवाजा खटखटाएंगे और विधानसभा कूच करेंगे.

विशेष