देश/प्रदेश

उत्‍तराखंड में पॉलीथिन मिलने पर पांच करोड़ से अधिक का जुर्माना

हल्द्वानी : उत्‍तराखंड में पॉलीथिन को लेकर अब तक का सबसे बड़ा जुर्माना लगाया गया है। प्रतिबंध के पॉलीथिन का प्रयोग धड़ल्ले से चल रहा है।

बुधवार को सीपीयू ने अल्मोड़ा के लिए जा रही पॉलीथिन की खेप को हल्द्वानी मंडी के पास पकड़ लिया। पॉलीथिन दो व्यापारियों की बताई जा रही है।

नगर निगम ने प्रतिबंधित पॉलीथिन का प्रयोग करने के एवज में दो फर्म के खिलाफ पांच करोड़ रुपये से अधिक का जुर्माना लगाया गया है। कुमाऊं में पॉलीथिन पर इतनी बड़ी कार्रवाई का पहला मामला बताया जा रहा है।

बुधवार पूर्वाह्न सीपीयू पुलिस बरेली रोड स्थित मेडिकल चौकी के पास चेकिंग अभियान चला रही थी। तभी पुलिस ने छोटा हाथी को चेकिंग के लिए रोक लिया।

टॉप तक भरे वाहन में कट्टों में पॉलीथिन लदे थे। पूछताछ के बाद पुलिस ने वाहन नगर निगम के हवाले कर दिया। देर शाम नगर आयुक्त सीएस मर्तोलिया व एसडीएम विवेक राय ने मामले की सामूहिक जांच करवाई। बताया गया है कि पॉलीथिन की बड़ी खेप को अल्मोड़ा भेजा जा रहा था। कुछ पॉलीथिन हल्द्वानी निवासी व्यापारी की थी।

नगर निगम ने प्रतिबंधित पॉलीथिन की थैली का प्रयोग करने पर अल्मोड़ा की फर्म कन्हैया लाल एंड सन्स पर 5 करोड़ 25 लाख (500 रुपये प्रति कैरी बैग) रुपये जुर्माना लगाया है।

इसी तरह हल्द्वानी के श्रीजी ट्रेडर्स पर पॉलीथिन के लिए 40 हजार रुपये (पांच हजार रुपये प्रति कट्टा) जुर्माना लगाया है। हल्द्वानी के व्यापारी ने जुर्माना देर शाम जमा कर दिया।

पॉलीथिन पर बड़ी कार्रवाई से व्यापारी सकते में हैं। इससे पहले 2014 में हल्द्वानी स्थित विशाल मेगामार्ट पर 27 लाख रुपये जुर्माना लगया गया था। एसडीएम ने बताया कि इस तरह का अभियान आगे भी जारी रहेगा।

सीएस मर्तोलिया, नगर आयुक्त ने बताया कि प्रतिबंधित पॉलीथिन का इस्तेमाल करने पर दो फर्मों पर पांच करोड़ से अधिक का जुर्माना लगाया गया है। हल्द्वानी की फर्म ने जुर्माने के 40 हजार रुपये जमा करा दिए हैं। पॉलीथिन के खिलाफ कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी।

विशेष