देश/प्रदेश

चम्पावत में भिक्षावृत्ति में लिप्त पाए गए जिले के 39 बच्चों को पुलिस भेजेगी स्कूल

चम्पावत : ऑपेरशन मुक्ति के दौरान भिक्षावृत्ति में लिप्त पाए गए जिले के 39 बच्चों को पुलिस स्कूल भेजेगी। पुलिस की ओर से भिक्षावृत्ति की रोकथाम के लिए एक फरवरी से ऑपेरशन मुक्ति अभियान चलाया जा रहा है, जो 31 मार्च तक जारी रहेगा।

एसपी लोकेश्वर सिंह ने बताया कि अभियान के प्रथम चरण एक से 20 फरवरी तक उप निरीक्षक मंजू पांडे के नेतृत्व में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम द्वारा भिक्षावृत्ति में लिप्त 39 बच्चे चिह्नित किए गए। इनमें 17 बालक तथा 22 बालिकाएं हैं। इन सभी बच्चों को अप्रैल से शुरू होने वाले नए सत्र में विभिन्न स्कूलों में दाखिला दिलाया जाएगा। बताया कि भिक्षावृत्ति करते पाए गए बच्चे उधमसिंह नगर, लखीमपुर खीरी, बहराइच आदि स्थानों के मूल निवासी हैं। सीडब्लूसी के माध्यम से बच्चों की काउसलिंग की जा रही है।

उन्होंने बताया कि अभियान के दूसरे चरण में 21 फरवरी से 10 मार्च तक एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम द्वारा जिले के स्कूल-कॉलेजों, सार्वजनिक स्थानों, महत्वपूर्ण चौराहों, सिनेमाघरों, बस व रेलवे स्टेशनों तथा धार्मिक स्थलों पर बच्चों को भिक्षा न देने के संबंध में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। सीओ ध्यान सिंह के नेतृत्व में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग अभियान जारी है। इसमें बाल विकास विभाग, जिला बाल कल्याण समिति, समाज कल्याण विभाग, चाइल्ड हेल्पलाइन चम्पावत, रीड्स संस्था बनबसा, श्रम विभाग भी सहयोग दे रहे हैं। बताया कि भिक्षावृत्ति में लिप्त बच्चों की काउंसलिंग कर शिक्षा प्रदान करने तथा उनके माता-पिता को रोजगार दिलाने का प्रयास किया जाएगा।

विशेष