राष्ट्रीय

अगले तीन वर्षों में 26 ग्रीन एक्सप्रेस-वे बनाने की योजना – नितिन गडकरी

राज्यसभा (Rajya Sabha) में गुरुवार को प्रश्नकाल के दौरान सवालों का जवाब देते हुए केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने बड़ा वादा किया. उन्होंने कहा कि महज 2 साल के भीतर देश की सड़कें अमेरिका (US) के जैसी हो जाएंगी. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्व में धन की कोई कमी नहीं है.

2024 से पहले कायाकल्प
केंद्रीय मंत्री गडकरी (Nitin Gadkari) ने वादा करते हुए कहा कि भारत का बुनियादी ढांचा 2024 तक संयुक्त राज्य अमेरिका (America) जितना अच्छा होगा. उन्होंने दावा किया कि भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) के पास धन की कोई कमी नहीं है और वह आर्थिक रूप से बेहद मजबूत है. संसद में बोलते हुए गडकरी ने कहा कि मैं वादा करता हूं, कि 2024 से पहले नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में, भारत की सड़कों का ढांचा वैसा ही होगा, जैसा अमेरिका में है.

26 ग्रीन एक्सप्रेसवे बनाने की योजना
नितिन गडकरी ने कहा कि सरकार अगले 3 वर्षों में देश में 26 ग्रीन एक्सप्रेस-वे (Green ExpressWay) बनाने की योजना बना रही है. केंद्रीय मंत्री के मुताबिक, इनके तैयार  होने के बाद महज दो घंटे के भीतर दिल्ली से देहरादून, हरिद्वार या जयपुर की यात्रा की जा सकती है. गडकरी ने इन यात्राओं के दौरान लगने वाले अनुमानित समय की जानकारी भी साझा की.

40 मिनट में मेरठ से दिल्ली का सफर 
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि एक बार इन एक्सप्रेस-वे के बनने के बाद, दिल्ली से चंडीगढ़ सिर्फ 2.5 घंटे में, दिल्ली से अमृतसर 4 घंटे में, दिल्ली से कटरा 6 घंटे में, दिल्ली से श्रीनगर 8 घंटे में और दिल्ली से मुंबई 12 घंटे में पहुंच सकते हैं. इसके साथ ही चेन्नई से बेंगलुरु तक की दूरी भी दो घंटे में तय की जा सकेगी. सड़क के विस्तार के बारे में बताते हुए उन्होंने उदाहरण दिया कि पहले मेरठ से दिल्ली जाने में पहले 4.5 घंटे लगते थे, लेकिन अब 40 मिनट में ही लोग यह सफर तय कर लेते हैं.

हर साल 5 लाख किमी सड़कें तैयार
राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान सवालों के जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि देश में सड़कों का विस्तार लगातार हो रहा है. इसके लिए राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) के पास पैसे की कोई भी किल्लत नहीं है. प्राधिकरण आर्थिक रूप से पूरी तरह मजबूत है. इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि एनएचएआई हर साल लगभग 5 लाख किलोमीटर सड़कें तैयार कर सकता है.

Leave a Response