उत्तराखंड

देहरादून में 11 वर्षीय बच्चे के अपहरण के मामले लोगों ने तीन घंटे लगाया जाम

देहरादून : कांवली रोड से एक 11 साल का बच्चा 14 जुलाई को संदिग्ध हालातों में लापता हो गया। पांच दिन बाद भी बच्चे का पता न लगने के विरोध में सोमवार को स्वजनों ने कांवली रोड पर तीन घंटा जाम लगाकर प्रदर्शन किया और टायर जलाए। आरोप है कि पुलिस की ओर से बच्चे को ढूंढने के कोई प्रयास नहीं किए जा रहे हैं। जाम के कारण सुबह दोनों तरफ वाहनों की लंबी लाइन लग गई।

स्वजनों ने कोतवाली में गुमशुदगी दर्ज करवाई

जानकारी के अनुसार 14 जुलाई को कृष नाम के बच्चे ने एक दुकान से महिला का पर्स उठा लिया था। पर्स उसने कुछ दूरी पर फेंक दिया। शाम को महिला दुकान पर पर्स लेने के लिए आई, जिसके बाद बच्चे से पर्स बरामद भी हो गया। इसके बाद डर के मारे बच्चा कहीं गायब हो गया। इस मामले में स्वजनों ने शहर कोतवाली में गुमशुदगी दर्ज करवाई, लेकिन बच्चे का अब तक कोई पता नहीं लग पाया।

गोविंदगढ़ व कांवली रोड से करीब 700 लोग थे एकत्र

दूसरी ओर बच्चे की लोकेशन बिहार होनी बताई जा रही है। बच्चे के पिता विजय साहनी ने बताया कि पुलिस की ओर से बच्चे को ढूंढने के कोई प्रयास नहीं किए जा रहे हैं, जिसके चलते उन्हें सड़कों पर उतरने को मजबूर होना पड़ा। इस दौरान गोविंदगढ़ व कांवली रोड से करीब 700 लोग एकत्र थे। शहर कोतवाल विद्या भूषण नेगी ने बताया कि बच्चे की गुमशुदगी दर्ज है। पुलिस बच्चे की तलाश में जुटी है।

 

Leave a Response