देश/प्रदेश

भगत सिंह कॉलोनी के सीलिंग के आदेश : जिलाधिकारी देहरादून

तब्लीगी जमात के संपर्क में आए चार स्थानीय लोगों में कोरोना संक्रमण पाए जाने के बाद यहां लोकल ट्रांसमिशन के रफ्तार पकड़ने का खतरा बढ़ गया है। वायरस के प्रसार को रोकने के लिए ही यह कड़ा कदम उठाया गया। जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने कहा कि मंगलवार मध्य रात्रि से 14 अप्रैल की मध्य रात्रि से कॉलोनी के सभी मागरें पर बैरिकेडिंग लगा दी गई है और किसी को भी बाहर व भीतर जाने की अनुमति नहीं होगी। कॉलोनी के निवासी भी घरों से बाहर नहीं निकल पाएंगे। सिर्फ एक परिवार में से कोई एक सदस्य जरूरी सामान की खरीद के लिए निकल पाएगा।

ऐसी वस्तुओं (राशन, फल-सब्जी) की आपूर्ति भी सरकारी मोबाइल कॉलोनी के भीतर मुहैया कराएगी। जब यह वैन किसी घर के पास से गुजरेगी तो आसपास के लोग एक-एक कर उससे सामान ले पाएंगे। जरूरी वस्तुओं की कॉलोनी में आपूर्ति के लिए जिला पूर्ति अधिकारी को जिम्मेदारी दी गई है। वहीं, मोबाइल वैन से दूध की बिक्री के लिए सहायक निदेशक डेयरी विकास को निर्देशित किया गया है। इस तरह कॉलोनी की करीब आठ हजार की आबादी को बाहर निकलने पर पाबंदी रहेगी और इस अवधि में उन्हें सरकारी आपूर्ति पर निर्भर रहना पड़ेगा। पृथक रूप से सील हुई भगत सिंह कॉलोनी में बुधवार को पंजाब नेशनल बैंक की मोबाइल एटीएम सेवा पहुंचेगी। जिससे कॉलोनी के लोग आसानी से केश निकाल सकेंगे। जिलाधिकारी के आदेश पर भगत सिंह कॉलोनी को सील कर दिया गया है। जिसके बाद कॉलोनी के लोग बाहर नहीं जा सकते हैं। ऐसे में कॉलोनी के लोगों को नकदी की दिक्कत न हो, इसके लिए जिलाधिकारी ने जिले के अग्रणी बैंक पीएनबी प्रबंधन को कॉलोनी में मोबाइल एटीएम सेवा भेजने के निर्देश दिए हैं। पंजाब नेशनल बैंक सर्किल ऑफिस के वरिष्ठ शाखा प्रबंधक संतोष सिन्हा ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर बुधवार को भगत सिंह कॉलोनी में मोबाइल एटीएम सेवा वैन भेजी जाएगी। जिससे लोग आसानी से केश निकाल सकते हैं। बताया कि सुबह दस से दोपहर 12 बजे तक मोबाइल एटीएम सेवा कॉलोनी में रहेगी।

विशेष