देश/प्रदेश

प्याज निकाल रहा आंसू नई फसल का इंतजार

देहरादून। दून में प्याज की बढ़ती कीमतों से उपभोक्ता परेशान हैं। प्याज के दामों में नरमी आने के लिए नई फसल का इंतजार हो रहा है। वहीं, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कीमतों में अंकुश लगाने की मांग को लेकर केंद्र और प्रदेश सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया।

मंडी निरीक्षक अजय डबराल ने बताया कि गुरुवार को इंदौर से एक ट्रक प्याज पहुंचा था। उम्मीद है अब प्याज की आवक में इजाफा होगा। उन्होंने बताया कि सामान्यत: दिसंबर के पहले सप्ताह में प्याज की नई फसल आनी शुरू हो जाती है, लेकिन इस बार इसमें समय लग रहा है।

उम्मीद है 15 दिसंबर से पहले ही नई फसल की आवक शुरू हो जाएगी। इससे प्याज के थोक दाम सामान्य स्तर पर पहुंच जाएंगे। वहीं, फुटकर विक्रेताओं का कहना है कि प्याज की बिक्री घटने से उन्हें नुकसान हो रहा है। 90 रुपये प्रति किलो की दर से बेचने पर भी स्टॉक क्लीयर नहीं हो पा रहा है।

दून के फुटकर बाजारों में प्याज 80 से 100 रुपये किलो बेचा जा रहा है। मंडी में थोक भाव 60 से 80 के बीच ही बना हुआ है। गत दिवस निरंजनपुर मंडी में कुल 298 कुंतल प्याज पहुंचा। इसमें अधिकांश प्याज अलवर से ही आयात किया गया। हालांकि इंदौर से प्याज की कोई गाड़ी नहीं पहुंची।

विशेष