उत्तराखंड

हरिद्वार में सावन के दूसरे सोमवार पर डाक कांवड़ यात्रियों का सैलाब उमड़ा

धर्मनगरी में रविवार के बाद सावन के दूसरे सोमवार पर डाक कांवड़ और बाइकर्स कांवड़ यात्रियों का सैलाब ही उमड़ आया। हरकी पैड़ी के गंगा घाटों से लेकर हाईवे और पूरा हरिद्वार शिवभक्तों से लबालब भरा हुआ है।

हर तरफ बम-बम भोले के जयकारे और डीजे की धुन से पूरी धर्मनगरी शिवमय हो गई। रविवार को 70 लाख कांवड़ यात्री गंगा जल भरकर रवाना हुए। कांवड़ मेले में अभी तक आने वाले शिवभक्तों का आंकड़ा तीन करोड़ को पार कर गया है। हरकी पैड़ी सहित सभी गंगा घाटों पर जल भरने वालों की बंपर भीड़ है।

दक्ष महादेव मंदिर में जलाभिषेके के लिए भक्‍तों का तांता लगा हुआ है। कांवड़ मेले में पैदल आने वाले शिवभक्तों के बाद हफ्ते भर से डाक कांवड़ आने का सिलसिला जारी है। डाक कांवड़ और बाइकर्स कांवड़ यात्रियों का ऐसा सैलाब उमड़ा कि हर तरफ शिवभक्त नजर आ रहे हैं।

हरकी पैड़ी के ब्रह्मकुंड, मालवीय घाट, कांगड़ा घाट, नाईसोता घाट, सुभाष घाट, बिरला घाट पर कांवड़ यात्रियों की जबरदस्त भीड़ है। बाइकर्स कांवड़ यात्रियों और डाक कांवड़ के रूप में ट्रक, ट्रैक्टर ट्राली, लोडर, आटो, विक्रम, ई रिक्शा आदि वाहनों पर दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब आदि राज्यों से हर घंटे लाखों कांवड़ यात्री हरिद्वार पहुंच रहे हैं।

गंगाजल लेकर वापस लौटने का क्रम भी जारी है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डा. योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि रविवार को कुल 70 लाख कांवड़ यात्री गंगा जल भरकर गंतव्य को रवाना हुए। कांवड़ यात्रियों के हरिद्वार पहुंचने और वापस लौटने का क्रम लगातार जारी है। सोमवार को यात्रियों की संख्‍या और बढ़ सकती है।

रुड़की और हरिद्वार में राजमार्ग एवं बाईपास अब पूरी तरह से डाक कांवड़ यात्रियों के हवाले हो गया है। इसके चलते पुलिस प्रशासन लगातार सलाह दे रहा है कि बहुत जरूरी होने पर ही अगले दो दिन राजमार्ग की ओर रुख करें।

शार्टकट के चक्कर में गलत दिशा में वाहन को ना चलाए। वहीं, रुड़की कांवड़ पटरी पर आमजन का आवागमन शुरू कर दिया गया है। जिसकी वजह से शहरवासियों को काफी राहत मिल गई है।

Leave a Response