विविध

ओडिशा के ‘प्लेबॉय’ ने 7 राज्यों में फैलाया प्यार का जाल, 14 महिलाओं से की शादी

ओडिशा (Odisha) में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां पर एक व्यक्ति ने सात राज्यों में 14 महिलाओं के साथ शादी (Man married 14 Women) रचाई है. इस घटना की जानकारी पाकर हर कोई हैरान रह गया है. यहां गौर करने वाली बात ये है कि आरोपी ने इन शादियों को लगभग पांच दशकों के दौरान किया है. वहीं, पुलिस ने आरोपी को ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर से धर दबोचा है और मामले में आगे की तहकीकात जारी है. माना जा रहा है कि पुलिस की पूछताछ में आरोपी अन्य बड़े खुलासे भी कर सकता है.

1982 में की पहली शादी

भुवनेश्वर के पुलिस उपायुक्त उमाशंकर दास (Umashankar Dash) ने बताया कि आरोपी ने 1982 में पहली शादी की थी और 2002 में दूसरी शादी तथा उसे इन दोनों शादियों से पांच बच्चे हुए. दास ने बताया कि 2002 से 2020 तक उसने वैवाहिक वेबसाइटों के माध्यम से अन्य महिलाओं से दोस्ती की तथा पहली पत्नियों को बिना बताये इन महिलाओं से शादी की. पुलिस के अनुसार वह आखिरी पत्नी के साथ ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में रह रहा था जो दिल्ली में एक स्कूल में अध्यापिका है.

तलाकशुदा महिलाओं को बनाता था शिकार

पुलिस का कहना है कि इस महिला को पिछली शादियों का पता चल गया और उसने पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी. पुलिस ने तब उसे किराये के मकान से गिरफ्तार किया. पुलिस उपायुक्त के अनुसार आरोपी अधेड़ उम्र की एकल महिलाओं खासकर तलाकशुदा को अपना शिकार बनाता था जो वैवाहिक वेबसाइटों पर साथी ढूढती थीं. पुलिस के अनुसार आरोपी उसे छोड़ने से पहले उसके पैसे ले लेता था. पुलिस ने आरोपी के पास से 11 एटीएम कार्ड, चार आधार कार्ड और अन्य दस्तावेज जब्त किये.

उमाशंकर दास ने बताया कि आरोपी खुद को डॉक्टर बताया था. उसने वकीलों, डॉक्टरों और पढ़ी लिखी महिलाओं के साथ शादी की. दास ने बताया कि पीड़ितों में अर्धसैनिक बल में काम करने वाली एक महिला भी शामिल है. उसने दिल्ली, पंजाब, असम, झारखंड और ओडिशा समेत सात राज्यों में महिलाओं को ठगा है. उसकी पहली दो पत्नियां ओडिशा की थीं.

मामले का कैसे हुआ भंडाफोड़

पुलिस ने कहा कि कि मामला तब सामने आया जब स्कूल की शिक्षिका ने पिछले साल जुलाई में महिला पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि आरोपी ने 2018 में नई दिल्ली में उससे शादी की और उसे भुवनेश्वर ले गया. महिला को आरोपी की कई शादियों के बारे में पता चला और पुलिस ने उसकी शिकायत के आधार पर उसे गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने कहा कि उसे पहले हैदराबाद और एर्नाकुलम में बेरोजगार युवकों को धोखा देने और ऋण धोखाधड़ी के आरोप में दो बार गिरफ्तार किया गया था.

Leave a Response