राष्ट्रीय

अब एयरपोर्ट की तरह PPP मॉडल के तहत हाई टेक बनेगे रेलवे स्टेशन

भारतीय रेलवे पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मॉडल के तहत दिल्ली के आनंद विहार टर्मिनल समेत कुल 16 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास (Redevelopment) के लिए अगले दो महीनों में बोलियां आमंत्रित करेगा. सूत्रों के अनुसार, पुनर्विकास किये जाने वाले अन्य रेलवे स्टेशनों में तांबरम, विजयवाड़ा, दादर, कल्याण, ठाणे, अंधेरी, कोयंबटूर जंक्शन, पुणे, बेंगलुरु सिटी, वडोदरा, भोपाल, चेन्नई सेंट्रल, हजरत निजामुद्दीन और अवादी रेलवे स्टेशन शामिल हैं.

भारतीय रेलवे की योजना के अनुसार इन सभी रेलवे स्टेशनों के पुर्नविकास के लिए इसी वित्त वर्ष में बोली लगाई जा सकती है. यात्रियों के लिए बेहतर बुनियादी सुविधाएं और पहुंच सुनिश्चित करने के लिए इन रेलवे स्टेशनों को अपग्रेड किया जाएगा. सूत्रों के मुताबिक, निजी क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के लिए विभिन्न मुद्रीकरण मॉडलों की जांच की जा रही है.

बता दें कि पहले चरण में 50 लाख प्रतिदिन की संख्या वाले 199 स्टेशनों का पुनर्विकास करने की योजना है. केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इस महीने की शुरुआत में कहा था कि पुनर्विकसित स्टेशनों के डिजाइन में रिटेल बिक्री, कैफेटेरिया और मनोरंजक सुविधाओं के लिए स्थान का भी प्रावधान होगा. वैष्णव ने कहा था कि 47 स्टेशनों के लिए टेंडर निकल चुका है और 32 स्टेशनों पर काम चल रहा है. ताकि यात्रियों को जल्द से जल्द सुविधाओं का लाभ दिया जा सके.

Leave a Response